फुंसी के लक्षण, कारण और इलाज

Beauty Tips - ब्यूटी टिप्स फुंसी के लक्षण, कारण और इलाज

हमारे चारो तरफ वातावरण इतना दूषित हो चूका है,जिसकी वजह से हर इंसान को कोई न कोई परेशानी और रोगो का सामना करना पड़ रहा है| इस दूषित वातावरण से पिंपल्स की परेशानी भी बहुत बड़ गई है| हम से शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे पिंपल्स और पिंपल्स से होने वाली परेशानियों का पता ना हो, इसीलिए हम सभी पिंपल्स से बचना चाहते है| आज हम आपको पिंपल्स के लक्षण, कारण, इलाज के बारे में जानकारी देंगे |

पिंपल्स के लक्षण

1 – अगर आपके चेहरे पर गालो के आसपास छोटे छोटे दाने हो जाए, उन दानो में दर्द हो तो आपको समझ जाना चाहिए की आपके चेहरे पर पिंपल्स होने शुरू हो गए है|

2 – अगर आपके चेहरे पर दाने हो जाते है और उन दानो को फोड़ने पर उसमे से पस और कील निकले तो आपको समझ जाना चाहिए की आपके चेहरे पर पिंपल हो गए है|

3 – कुछ पिंपल्स ऐसे होते है जो चेहरे पर ऊपर की तरफ नहीं बल्कि त्वचा के अंदुरुनी तरफ होते है|  बाद में ये दाने गांठ का रूप ले लेते है, जिसमे बहुत परेशानी होती है|

पिंपल्स के कारण

पिंपल्स होने के बहुत सारे कारण होते है,चलिए कुछ की जानकारी हम आपको देते है

1 – यदि आपका पेट सही नहीं रहता है और आपको कब्ज, बदहजमी की शिकायत है तो आपको पिंपल्स होने के चांस ज्यादा है |

2 – समय पर खाना ना खाना, बहुत अधिक मात्रा में जंक फ़ूड, बहुत अधिक तला भुना और मसाले वाला खाना खाने से पिंपल्स हो जाते है| हमे इन चीजों का परहेज़ करना चाहिए|

3 – अधिकतर महिलाए खूबसूरत दिखने के लिए केमिकल वाली क्रीम,लोशन इत्यादि लगाती है जिसकी वजह से भी पिंपल्स हो सकते है |

4 – लड़के और लड़कियो के शरीर में हार्मोन्स के बदलाव के कारण भी पिंपल्स हो सकते है|

5  – खासतौर पर गर्मी में धुप बहुत अधिक देर तक रहती है,जिसकी वजह से हमारी त्वचा में काफी परेशानी देखने को मिलती है| ज्यादा देर धुप में बैठने से बचना चाहिए|

पिंपल्स का इलाज

1 – मुल्तानी मिटटी पेस्ट – मुल्तानी मिटटी को गर्मी में लगाने से ठंडक मिलती है| पिंपल्स के इलाज के लिए आपको थोड़ी सी मुल्तानी मिटटी लेनी पड़ेगी, उसमे थोड़ा सा गुलाबजल और थोड़ा सा नींबू का रस निकाल कर तीनो को अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बना ले| फिर इस पेस्ट को पिंपल्स पर लगा ले, 15 से 20 मिनट बाद चेहरे को ठन्डे पानी से धो ले| ऐसा करने से आपकी त्वचा का रंग भी साफ़ होगा और पिंपल्स से भी छुटकारा मिल जाएगा |

2 – जैतून का तेल – जैतून का तेल हमारी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है| दो चमच्च जैतून का तेल ले ले, उसके बाद उसमे 5 से 6 बूँद टी ट्री ऑयल मिला ले और दिन में 3 बार लगाए| इससे भी पिंपल्स को बहुत फायदा होता है|

3 – शहद – शहद हम सभी के घरो में आसानी से मिल जाता है,लेकिन कम लोगो को पता होता है की शहद हमारी त्वचा की परेशानी को दूर करता है| रात में शहद लेकर अपने चेहरे पर लगाए और लगभग 20 से 30 मिनट लगा रहने दे,सुख जाने के बाद ठन्डे पानी से चेहरा धो ले| शहद आपके चेहरे से पिंपल्स को खत्म करने में बहुत मदद करता है|

Recent Articles

कैसे दृष्टिवैषम्य होने से रोका जा सकता है

दृष्टिवैषम्य को हम एस्टिग्मेटिज़्म के नाम से भी जानते है, दृष्टिवैषम्य की परेशानी आम है, लेकिन अगर आप लापरवाही करते है तो कई बार...

दृष्टिवैषम्य का निदान कैसे करें

दृष्टिवैषम्य की परेशानी का निवारण उसकी जाँच के बाद ही अच्छी तरह से हो सकता है, इसके लिए जब आप नेत्र चिकित्सक के पास...

दृष्टिवैषम्य के लिए उपचार क्या है

आँखों की जाँच करने के बाद ही पता चलता है की बीमारी कितनी गंभीर है। नेत्र चिकित्सक बीमारी की गंभीरता को देखते हुए आपकी...

दृष्टिवैषम्य के साथ जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

आँखे बहुत नाजुक होने के साथ साथ हम सभी के लिए महत्वपूर्ण होती है, दृष्टिवैषम्य आँखों में होने वाली एक आम परेशानी है। अगर...

दृष्टिवैषम्य के कारण क्या हैं

दृष्टिवैषम्य की परेशानी बच्चो में ज्यादा पाई जाती है, कई बार अनुवांशिकता की वजह से भी आँखों में दृष्टिवैषम्य की परेशानी हो सकती है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × one =