बवासीर के मस्से और दर्द का उपचार के 7 घरेलू आयुर्वेदिक उपाय

Home Remedies - घरेलू नुस्खे बवासीर के मस्से और दर्द का उपचार के 7 घरेलू आयुर्वेदिक उपाय

बवासीर (Hemorrhoids) 2 तरीके की होती है अंदरुनी और बाहरी। अंदर की पाइल्स में मस्से दिखाई नहीं देते पर बाहरी में मस्से गुदा से बाहर की और निकले होते है। इस रोग में जब मल त्यागते वक़्त खून निकलता है तो उसे खूनी बवासीर कहते है। ये खून इतना अधिक होता है की रोगी इसे देख कर घबरा जाता है। बाहरी बवासीर होने पर मस्से सूज कर मोटे हो जाते है जिससे इसमें दर्द, जलन और खुजली भी होने लगती है। इस लेख में हम जानेंगे बवासीर का उपचार घरेलू तरीके से कैसे करे, natural home remedies tips for piles treatment in hindi.

Bawaseer (अर्श) के मस्सों से परेशान व्यक्ति न तो ठीक से कुछ खा पी सकता है और न ही ठीक से बैठ पाता है। बाहरी मस्सों का इलाज डॉक्टर और आयुर्वेदिक चिकित्सक ऑपरेशन या दवा से कर देते है क्योंकि ये गुदा में बहार की तरफ निकले होते है पर भीतरी मस्सों का उपचार करना थोड़ा मुश्किल होता है क्योंकि ये मस्से गुड्डा के अंदर की तरफ होते है।

बवासीर का उपचार के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

 

बवासीर का उपचार के घरेलू उपाय और देसी नुस्खे

Bawaseer ka Upchar ke Gharelu Upay aur Desi Nuskhe

 

1. खुनी बवासीर होने पर दही या लस्सी के साथ कच्चा प्याज खाने से फायदा मिलता है।

2. कैसी भी बवासीर हो कच्ची मूली खाने या इसका रस पीना चाहिए। एक बार में मूली का रस 25 से 50 ग्राम तक ही ले।

3. आम और जामुन की गुठली के अंदर वाले हिस्से को सुख कर पीस ले और इसका चूर्ण बना ले। रोजाना 1 चम्मच चूर्ण पानी या लस्सी के साथ लेने से खुनी बवासीर में आराम मिलता है।

4. शरीर में कब्ज़ रहती हो और पेट ठीक से साफ़ न होता हो तो इसबगोल की भूसी का प्रयोग करे।

5. 50 से 60 ग्राम बड़ी इलायची तवे पर भून ले और ठंडी होने के बाद इसे पीस कर चूर्ण बना ले। रोजाना सुबह खाली पेट इस चूर्ण को पानी के साथ लेने से पाइल्स ठीक होती है।

6. 100 ग्राम किशमिश रात को सोने से पहले पानी में भिगो कर रखे और सुबह इसी पानी में किशमिश को मसलकर इस पानी का सेवन करे। कुछ दिन निरंतर इस उपाय को करने से बवासीर ठीक होने लगती है।

7. 10 से 12 ग्राम धुले हुए काले तिल ताजा मक्खन के साथ खाने से khooni bawaseer में खून का आना बंद होता है। एक चौथाई चम्मच दालचीनी 1 चम्मच शहद में मिला कर खाने से भी पाइल्स में राहत मिलती है।

 

अगर आप को बवासीर बार बार होती है तो दोपहर के खाने के बाद लस्सी (छाछ) का सेवन करे। लस्सी में थोड़ा सा सेंधा नमक और अजवाइन मिला कर पिये।

 

बवासीर के मस्सों का रामबाण इलाज

  • 80 ग्राम अरंडी के तेल को गरम कर ले फिर इसमें 10 ग्राम कपूर मिला कर रखे। मस्सों को साफ़ पानी से धो कर इसे किसी कपड़े से पोंछ ले और अरंडी के इस तेल से मस्सों पर हलके हाथों से मालिश करे। इस देसी नुस्खे को दिन में 2 बार करने से मस्सों की सूजन, दर्द, खारिश और जलन में आराम मिलता है।
  • थोड़ी सी हल्दी को सेहुंड के दूध में मिलाकर इसकी 1 बूंद मस्से पर लगाने से मस्सा ठीक हो जाता है। .
  • सहजन के पत्ते और आक के पत्तों का लेप लगाने से भी मस्सों से जल्दी छुटकारा मिलता है।
  • कड़वी तोरई के रस में हल्दी और नीम का तेल मिला कर एक लेप बना ले और मस्सों पर लगाये। इस उपाय के निरंतर प्रयोग से हर तरह के मस्से ख़तम हो जाते है।

 

खूनी और बादी बवासीर का आयुर्वेदिक उपाय

अंजीर का सेवन पाइल्स के इलाज में बेहद लाभकारी है। रात को सोने से पहले 2 सूखे अंजीर पानी में भिगो कर रखे और सुबह खाये और 2 अंजीर सुबह भिगो कर रख दे जिसे आप शाम को खाये। अंजीर खाने के आधा से पोना घंटा पहले और बाद में कुछ खाये पिये नहीं। 10 से 12 दिन लगातार इस नुस्खे को करने से खुनी और बादी हर तरीके की बवासीर से राहत मिलती है।

 

बवासीर का इलाज बाबा रामदेव मेडिसिन

  • बावासीर के मस्सों से छुटकारा पाने के लिए अगर आप आयुर्वेदिक मेडिसिन लेना चाहे तो बाबा रामदेव पतंजलि स्टोर से आप दिव्य अर्श कल्प वटी ले सकते है। इस दवा की 1 से 2 गोली दिन में दो बार पानी या लस्सी के साथ ले।

 

योगा से बवासीर का उपचार कैसे करे

शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों से जल्दी राहत पाने में योगा करना अच्छा उपाय है। बवासीर के योगा में अनुलोम – विलोम और कपालभाती प्राणायाम दिन में 2 बार करे। अगर आप प्राणायाम करने की सही प्रक्रिया नहीं जानते तो आप किसी योग गुरु की मदद ले। आप घर बैठे baba ramdev की विडियो देख कर भी सिख सकते है।

 

बवासीर में क्या खाये

  1. करेले का रस, लस्सी, पानी।
  2. दलिया, दही चावल, मूंग दाल की खिचड़ी, देशी घी।
  3. खाना खाने के बाद अमरुद खाना भी फायदेमंद है।
  4. फलों में केला, कच्चा नारियल, आंवला, अंजीर, अनार, पपीता खाये।
  5. सब्जियों में पालक, गाजर, चुकंदर, टमाटर, तुरई, जिमीकंद, मूली खाये।

 

बवासीर में परहेज क्या करे

बवासीर का उपचार में जितना जरुरी ये जानना है की क्या खाये उससे जादा जरुरी इस बात की जानकारी होना है की क्या नहीं खाये।

  • तेज मिर्च मसालेदार चटपटे खाने से परहेज करे।
  • मांस मछली, उडद की दाल, बासी खाना, खटाई ना खाएं।
  • डिब्बा बंद भोजन, आलू, बैंगन।
  • शराब, तम्बाकू।
  • जादा चाय और कॉफ़ी के सेवन से भी बचे।

 

बवासीर से बचने के उपाय

दोस्तों बहुत से लोग इस बीमारी से प्रभावित है पर हम कुछ बातों का ध्यान रख कर इससे बच सकते है।

  1. खाने पिने की बुरी आदतों से परहेज करे जैसे धूम्रपान और शराब।
  2. खाने में मसालेदार और तेज मिर्च वाली चीजें न खाये।
  3. पेट से जुडी बीमारियों से बचे।
  4. कब्ज़ की समस्या बवासीर का प्रमुख कारण है इसलिए शरीर में कब्ज़ न होने दे।
  5. गर्मियों के मौसम में दोपहर को पानी की टंकी का पानी गरम हो जाता है, ऐसे पानी से गुदा को धोने से बचे।

 

अगर आप पाइल्स के परेशान है और इससे छुटकारा पाने के लिए ऑपरेशन करवाने का सोच रहे है तो इससे पहले किसी आयुर्वेदिक वैद की सलाह से यहाँ बताये हुए नुस्खे अपना कर देखे। घरेलू और आयुर्वेद तरीके से किये गए उपचार से सर्जरी की नोबत आयी हुई बीमारियों में भी असरदार है।

 

दोस्तों बवासीर का उपचार के घरेलू उपाय और देसी तरीके, piles treatment in hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेन्ट कर के बताये और अगर आप के पास बवासीर के मस्से का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे। Bawasir ka ilaj upay aur gharelu nuskhe से जुड़े आपके अनुभव और सुझाव भी हमारे साथ साँझा करे।

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

103 टिप्पणी

    • नरेश जी अगर आप को आयुर्वेदिक तरीके से इलाज करने पर भी आराम नहीं मिल रहा है तो आयुर्वेद वैद से मिल कर सलाह ले और उन्हें ये भी बताये आपने कौन से नुस्खे किये, वो आपको सही सलाह दे सकेंगे.

  1. Mera naam jugesh hai mera age 17 y hai mera bawasir 3 saal purana hai mai ek nuskhe apnaya nariyal ki jata ka bhasma dahi ke sath khali pet 3 baar din me khaya hoon uske baad me 3-4 din khali pet me nariyal ki bhasm dahi ke sath liya 2-3 din baad masse fir se dard karne laga mai hospital me opration karwana chahta hoon aap kya raay dena chahenge koi samadhan bataye

  2. Sir mera massa sooj gaya hai to mene aapka nuskha apnaya 80 gm arandi ke oil me 10gm kapoor mix kar pest banakar din me do bar lagaya to dard me to aram mila lekin us jagah se automatic blood nikalta rehta hai Kya esa hota hai ya fir mujhe dabai shoot nahi kar rahi hai me bahut paresan hu ab mujhe Kya karna chahiye please kuch upay batayen

  3. Sir , मेरे बवासीर पिछले 2 साल से हर गर्मियों मे हो जाती है। मैने सब कुछ करके देख लिया । सभी दवाईयां ले ली। घरेलु उपचार भी कर लिए लेकिन बवासीर नहीं जाती, ये अपने आप ठीक हो जाती है । सर्दियां शुरू होते ही, और मैं पूरी गर्मी परेशान रहता हूं। हर बार ऐसा ही होता आ रहा है। ओर अब फिर से गर्मी शुरू हो गई और अपने आप बवासीर हो गई , तो इस बार मैं इस दर्द को सहन नहीं कर सकता , plzzz बताइये मे क्या करू ?? Plzzzz।

    • दोस्त आप सबसे पहले इस बात का ख्याल रखे की आपको कब्ज़ की समस्या ना हो, इसके इलावा बवासीर का इलाज के लिए घरेलू नुस्खे और परहेज की जानकारी आप ऊपर लेख में पढ़े.

  4. Bhai up police mai job dekh raha hun mujhe bawaseer hai. Jab mujhe bahut Jada thi tab mene baidyanath ka arshkalp syrup piya to kuch dino ke liye aaram mila lekin kuch phir dard hua to mene arshkalp ke capsul liye to phir ye kuchh dino ke liye theek ho gaya aaj kal phir dard wa letring karane mai paresani hoti hai.
    Kya yah ayurveda se jad se khatam ho sakati hai please agar ho sakati hai to kese
    Ho ki hame police ke medical mai pareshan na Kare.

  5. सर जी मेरा पेट ठीक नहीं रहता है इसलिए केवल अभी तक शौच करने के समय दो बार हल्का सा खून आया था जब शौच थोड़ी टाइट आयी थी। पेट का कोई परमानेंट अच्छा देशी इलाज बताएं, जब कि अब हमने बहुत परहेज़ करना शुरू भी कर दिया है।

  6. सर मुझे 6, 7 साल से बावासीर है और हमेशा पेट खराब रहता है एक दिन में 4, 5 बार शौच जाना पड़ता है कोई अच्छा सा उपचार बातायें बहुत परेशान हूँ।

    • बवासीर का इलाज में घरेलू नुस्खे अचूक है, आप बवासीर के ट्रीटमेंट की दवा लेने के साथ ऊपर बताये हुए उपाय और परहेज भी करे जल्दी आराम मिलेगा.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + sixteen =

Recent Articles