क्या प्रदूषण के कारण आंखें जल सकती हैं

0
143

आजकल वातावरण कितना खराब है और प्रदूषित है ये हम सभी जानते है, ऐसे में बहुत सारे लोगो के मन में एक सवाल भी उठता है की क्या प्रदूषण की वजह से भी आँखों में जलन की समस्या हो सकती है, चलिए आज हम आपके इस सवाल का समाधान करते है, प्रदूषण की वजह से भी हमारी आँखों में जलन,  इन्फेक्शन,  लालीपन इत्यादि परेशानी हो सकती है|

जब भी हम घर से बाहर निकलते है तो हमारी आँखों में हवा के साथ धुल, मिटटी इत्यादि के कण चले जाते है जिससे इन्फेक्शन हो जाता है, उससे आँखों में लाली, जलन और खुजली इत्यादि जैसी परेशानी भी हो सकती है| इसीलिए जब भी घर से बाहर जाए अपनी आँखों को चश्मे, मास्क इत्यादि से ढक कर निकले, जिससे वातावरण में आपकी आँखों को नुक्सान पहुचाने वाली चीजों से बचा सके| आँखों में धुंआ या प्रदूषित हवा जाने से आँखों में सूखापन, सूजन, एलर्जी इत्यादि परेशानियों का सामना करना पढ़ सकता है, आँखों के प्रसिद्ध डॉक्टर बताते है दीवाली के बाद आँखों की परेशानी वाले मरीजों की संख्या काफी बढ़ जाती है, जिसका सबसे बड़ा कारण होता है, दीवाली पर पटाखे बहुत ज्यादा छोड़े जाने की वजह से हवा में केमिकल और आँखों को नुक्सान पहुचाने वाली चीजे घूल जाती है, जिसकी वजह से हवा दूषित हो जाती है और जब दूषित हवा आँखों में जाती है तो वो आँखों में जलन उत्पन्न कर देती है|

अक्सर लोगो की आँखों में जलन होने के बाद वो अपनी मर्जी से या किसी और की मर्जी से मेडिकल से ड्राप लेकर अपनी आँखों में डाल लेते है, जिससे उनकी आँखों की जलन कम होने की बजाय बढ़ जाती है| इसीलिए कभी भी आँखों में जलन होने पर तुरंत आँखों के किसी अच्छे डॉक्टर से मिलना चाहिए और उनसे आँखों की जाँच करनी चाहिए, फिर उनके परामर्श से ही दवाई खानी चाहिए| आजकल की जिंदगी में बढ़ते प्रदूषण की वजह से वातावरण में स्मॉग की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ गई है| ज्यादातर ठण्ड के मौसम में इसकी संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, जिसकी वजह से आँखों में बहुत सारी परेशानी हो सकती है, ऐसे में कभी भी लापरवाही ना करे, आँखों में हलकी सी भी परेशानी होने पर फौरन किसी अच्छे नेत्र चिकित्सक  से सलाह ले|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + eleven =