कलोंजी के बेमिसाल फायदे, उपयोग और रेसिपी ( nigella seeds in hindi )

Health Tips in Hindi - हेल्थ टिप्स कलोंजी के बेमिसाल फायदे, उपयोग और रेसिपी ( nigella seeds in hindi...

कलोंजी ( nigella seeds in hindi )

nigella seeds को हिंदी में कलोंजी के नाम से जाना जाता है| कलोंजी में फाइबर, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम और विटामिन्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते है| कलोंजी का सेवन करने से आपको कई सारे रोगो में लाभ प्राप्त हो सकता है| चलिए अब हम आपको कलोंजी के फायदों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

nigella seeds in hindi

कलोंजी के फायदे (benefits of nigella seeds in hindi )

1 – त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में सहायक – कलौंजी में मौजूद एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल, एंटीफंगल और अन्य गुण त्वचा से संबंधित परेशानी जैसे मुंहासे, सोरायसिस, जलन, घाव, त्वचा में सूजन और पिगमेंटेशन जैसी परेशानियो को दूर करने में काफी मददगार साबित होते हैं। इसीलिए अगर आप भी त्वचा में होने वाली परेशानियो से बचना चाहते है तो नियमित रूप से कलोंजी का सेवन करने से आपको काफी लाभ प्राप्त हो सकता है|

2 – इनफर्टिलिटी में भी फायदेमंद –  आज के समय बांझपन यानी इंफर्टिलिटी की समस्या से पीड़ित लोगो की संख्या काफी है| पुरुषों में अगर बांझपन की परेशानी है तो इसका मतलब उनमे स्पर्म की कमी हो गई है, पुरुषो में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण यह परेशानी देखने को मिलती है| जिसके निवारण के लिए कई सारी हर्बल दवाइयां मौजूद है कलोंजी को उन्ही हर्बल दवाइयो में शामिल किया जाता है| कलोंजी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव पुरुषो की इस परेशानी को दूर करने में काफी सहायक माना जाता है| अगर आप भी ऐसी ही किसी परेशानी का सामना कर रहे है तो नियमित रूप से कलोंजी का सेवन करने से आपको कुछ ही दिनों में लाभ प्राप्त हो सकता है|

3 – कैंसर से बचाव में सहायक –  किसी भी इंसान के शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और फ्री रेडिकल्स की वजह से कई बार काफी घातक बिमारी जैसे कैंसर इत्यादि होने की सम्भावना काफी ज्यादा होती है| अगर आप भी अपने आपको इन परेशानी से बचाना चाहते है तो कलोंजी आपके लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| कलौंजी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और अन्य गुण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और फ्री रेडिकल्स की परेशानी को कम करने में काफी मददगार साबित हो सकते है| इसीलिए अगर आप कलोंजी का सेवन करते है तो आप अपने आपको कैंसर से बचा सकते है, कैंसर के लक्षण दिखने पर चिकित्सक से सलाह जरूर लें|

4 – उच्च रक्तचाप में भी लाभदायक – कलोंजी में मौजूद एंटी-हाइपरटेंसिव और अन्य पोषक तत्व उच्च रक्तचाप की परेशानी को कम करने में काफी सहायक साबित हो सकते है| अगर आप भी उच्च रक्तचाप की परेशानी का सामना कर रहे है तो नियमित रूप से सेवन करने से आपको बहुत जल्द लाभ प्राप्त हो सकता है|

कलोंजी का उपयोग और रेसिपी

1 – कलोंजी का उपयोग आप सीधे तोर पर भी कर सकते है, इसके लिए आप दाल या सब्जी बनाते समय छोंक में कर सकते है या आप चाहे तो कलोंजी को मिक्सी में पीस कर पॉउडर बना लें और मसाले के साथ भी इस्तेमाल कर सकते है|

2 – कलोंजी का उपयोग अधिकतर लोग अचार और पुलाव में भी डाल कर करते है|

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी ( health tips in hindi ) और घरेलू नुस्खे इन हिंदी ( gharelu nuskhe in hindi ) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − seven =

Recent Articles