मोतियाबिंद से जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

Eye Health - आँखों की सेहत Cataract - मोतियाबिंद मोतियाबिंद से जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

मोतियाबिंद की परेशानी में अगर आप लापरवाही करते है तो धीरे धीरे बढ़कर आपकी पूरी आँख को प्रभावित कर देता है और आपकी आँखों की रौशनी को भी खत्म कर सकता है| इसीलिए कभी भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए तुरंत किसी नेत्र चिकित्सक के पास जाकर जाँच और इलाज कराना चाहिए| मोतियाबिंद की परेशानी पुरुषो के मुकाबले महिलाओ में ज्यादा देखने को मिलती है, जिसका कारण शायद महिलाओ के शरीर में हार्मोन्स बदलाव होना होता है|

अधिकतर लोगो को 40 की उम्र के बाद मोतियाबिंद हो जाता है लेकिन शुरुआत में ये बहुत ही छोटे सफ़ेद धब्बे के रूप में हो सकता है, उसके बाद ये बहुत धीरे धीरे बढ़ता है और बाद में ये बढ़कर आपकी पूरी आँख में हो जाता है और आपकी आँखों की रौशनी को भी धीरे धीरे खत्म कर देता है| अगर आपको मोतियाबिंद की परेशानी हो रही है तो डॉक्टर आपसे आपके परिवार के बारे में पूछते है की उन्हें भी तो मोतियाबिंद की परेशानी नहीं है, कई बार देखा गया है की मोतियाबिंद अनुवांशिकता के कारण भी हो सकता है| जो लोग बहुत अधिक मोटे होते है उनकी आँखों में पतले लोगो के मुकाबले मोतियाबिंद होने की सम्भावना बहुत ज्यादा होती है|

जिन इंसानो को मधुमेह की बीमारी होती है उन्हें अपनी शुगर का खासतौर पर ध्यान रखना चाहिए, उन्हें भी मोतियाबिंद की परेशानी आ सकती है| बहुत से लोग तेज धूप में बिना चश्मा लगाए निकल जाते है जिसकी वजह से उनकी आँखे सीधे सूरज की किरणों के संपर्क में आ जाती है, जिसकी वजह से उनकी आँखों में न्यूक्लिअर मोतियाबिंद के होने की सम्भावना बढ़ जाती है| बहुत से लोग शराब का सेवन बहुत ज्यादा करते है, जिसकी वजह से उनके शरीर में एल्कोहल की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ जाती है और उसका असर हमारी आँखों पर भी पढ़ सकता है, ऐसे लोगो की आँखों में मोतियाबिंद होने की सम्भावना बहुत अधिक होती है| बहुत से लोग बहुत अधिक धूम्रपान करते है, जिसकी वजह से सिगरेट, बीड़ी, सिगार इत्यादि का धुंआ सीधे हमारी आँख में चला जाता है, जो हमारी आँखों को बहुत प्रभावित करता है, ऐसे लोगो की आँखों में बहुत रोग हो सकते है जिनमे से मोतियाबिंद  प्रमुख होता है|

हम आपको सलाह देंगे कारण चाहे जो भी हो लेकिन अगर आपको अपनी आँखों में हलकी सी भी परेशानी महसूस हो रही हो तो लापरवाही नहीं करनी चाहिए तुरंत किसी नेत्र चिकित्सक के पास जाकर आँखों की जाँच और इलाज करना चाहिए|

Recent Articles

कैसे दृष्टिवैषम्य होने से रोका जा सकता है

दृष्टिवैषम्य को हम एस्टिग्मेटिज़्म के नाम से भी जानते है, दृष्टिवैषम्य की परेशानी आम है, लेकिन अगर आप लापरवाही करते है तो कई बार...

दृष्टिवैषम्य का निदान कैसे करें

दृष्टिवैषम्य की परेशानी का निवारण उसकी जाँच के बाद ही अच्छी तरह से हो सकता है, इसके लिए जब आप नेत्र चिकित्सक के पास...

दृष्टिवैषम्य के लिए उपचार क्या है

आँखों की जाँच करने के बाद ही पता चलता है की बीमारी कितनी गंभीर है। नेत्र चिकित्सक बीमारी की गंभीरता को देखते हुए आपकी...

दृष्टिवैषम्य के साथ जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

आँखे बहुत नाजुक होने के साथ साथ हम सभी के लिए महत्वपूर्ण होती है, दृष्टिवैषम्य आँखों में होने वाली एक आम परेशानी है। अगर...

दृष्टिवैषम्य के कारण क्या हैं

दृष्टिवैषम्य की परेशानी बच्चो में ज्यादा पाई जाती है, कई बार अनुवांशिकता की वजह से भी आँखों में दृष्टिवैषम्य की परेशानी हो सकती है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × one =