एसिडिटी और पेट में जलन का उपचार के 10 घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे

Acidity - गैस एसिडिटी और पेट में जलन का उपचार के 10 घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे

आजकल की दौड़भरी जिंदगी में हम अपने खान पान पर ध्यान नहीं दे पाते, जिस कारण हम एसिडिटी, पेट दर्द, पेट में जलन, गैस और कब्ज जैसी बीमारियों से घिरे रहते है। हमारा पाचन तंत्र हमारे खाने को पचाने के लिए पेट में एसिड बनाता है, जिस कारण हमारा पाचन तंत्र नियंत्रित रहता है। इस एसिड की मात्रा अगर सही रहे तो हमारा पेट स्वस्थ रहता है पर अगर इसकी मात्रा बढ़ जाये तो यह एसिडिटी (अम्लता) बन जाती है। एसिडिटी का उपचार के लिए बाजार में बहुत सी मेडिसिन उपलब्ध है, जिसमें से कुछ दवा कंपनियां तो तुरन्त आराम का दावा करती है।

इन दवाओं से हमें आराम तो मिल सकता है पर यह एसिडिटी से छुटकारा पाने का सटीक उपाय नहीं है। हम इसका इलाज कई वर्षो से हमारे घरो में अपनाये जा रहे घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक देसी नुस्खे अपना कर सकते है। आइये जाने home remedies tips for acidity treatment in hindi.

किन कारणों से होती है एसिडिटी की समस्या ?

  • खान पान पर ध्यान न देने से
  • बाजारी, तीखे व चटपटे खाने के कारण
  • नशे व धूम्रपान के कारण
  • वक़्त पर खाना न खाने से
  • खाली पेट चाय पिने से
  • चाय कॉफ़ी का अधिक सेवन करने से
  • शरीर में गर्मी का अधिक होना भी एसिडिटी का कारण बन सकता है।

कैसे पहचाने एसिडिटी के लक्षणों को

  • खट्टी व कड़वी डकारों का अधिक आना
  • घबराहट होना
  • सिर दर्द होना
  • पेट में गैस की समस्या
  • खाली उबाक आते रहना
  • कब्ज होना
  • उलटी आना

पेट में जलन और एसिडिटी का उपचार के देसी नुस्खे और घरेलू उपाय

1. अदरक का सेवन एसिडिटी के इलाज में अचूक उपाय है। अदरक की चाय इस परेशानी में बहुत लाभदायक है। अदरक के छोटे छोटे टुकड़े करे और एक गिलास पानी में गर्म करके छानकर पानी को गुनगुना होने पर सेवन करे।

2. एसिडिटी और पेट की जलन की समस्या में एलोविरा का जूस एक बेहतरीन उपाय है। प्रतिदिन इसका प्रयोग करने से एसिडिटी से छुटकारा मिलता है।

3. गुलुकंद का सेवन भी काफी हद तक एसिडिटी की रोकथाम में उपयोगी है।

4. अजवायन, सौंफ, जीरा व सवा के बीज के एक-एक चम्मच को पानी में उबाले फिर इसे छानकर रोजाना दो से तीन बार सेवन करे। ऐसा करने से पेट की समस्याओ से निजात मिलता है।

5. एक चम्मच बेकिंग सोडा को एक गिलास पानी में मिलाकर सेवन करने से एसिडिटी से जल्दी ही आराम मिलता है।

6. राजीव दिक्षित जी कहते है की दस ग्राम किशमिश को रात को भिगोकर सुबह खाने से एसिडिटी से आराम मिलता है ।

7. बादाम एसिड को नियंत्रित करने का काम करता है । पेट में जलन होने पर तीन से चार बादाम खाये।

8. पेट में गैस की परेशानी जलन की समस्या व पेट दर्द में लौंग इलायची और तुलसी के पत्तों का प्रयोग बहुत ही उपयोगी व बेहतरीन इलाज है।

9. कददू , पत्तागोभी ,गाजर और प्याज से बनी सब्जियां पेट में जलन होने पर सेवन करे।

10. भोजन करने के बाद एक गिलास पुदीने का पानी उबाल कर पीने से भी एसिडिटी से आराम मिलता है।

एसिडिटी का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे

1. एसिडिटी के उपाय में आंवला बहुत उपयोगी है, रोजाना आंवले का चूर्ण एक गिलास पानी के साथ सेवन करे। इसके आधे घण्टे के बाद कुछ ना खाये पिये। इसके इलावा आंवले के जूस का भी प्रयोग भी कर सकते है।

2. मुलठी के चूर्ण का सेवन करने से गले में जलन और एसिडिटी की परेशानी से राहत मिलती है। मुलठी का काढ़ा बनाकर सेवन करने से यह और भी असरदार साबित होता है।

3. अशवगंधा का इस्तेमाल एसिडिटी में रामबाण आयुर्वेदिक नुस्खा है। एक गिलास दूध में अशवगंधा मिला कर लेने से एसिडिटी में आराम मिलता है।

4. रात को एक गिलास पानी में नीम की छाल को भिगोकर रख दे और सुबह इस पानी को छानकर इसका सेवन करे या नीम की छाल का चूर्ण बनाकर प्रयोग करे।

5. मुन्नका भी एसिडिटी का उपचार में कामयाब तरीका है। इसे एक गिलास दूध में उबाल ले और दूध पिए या फिर दूध के साथ सेवन करे।

6. पांच से सात गिलोय की जड़ के टुकड़े ले और इन्हें पानी में उबाल ले, फिर गुनगुना होने पर आराम से घूट-घूट कर पिए।

7. रात के समय त्रिफला के चूर्ण को शहद के साथ उपयोग करे। इससे भी काफी लाभ मिलता है।

एसिडिटी का इलाज बाबा रामदेव मेडिसिन

दिव्या आविपत्तिकर चूर्ण का सेवन baba ramdev के द्वारा बताया या उत्तम उपाय है। यह चूर्ण शरीर में पाचन क्रिया और एसिड को नियंत्रण  में रखने का काम करता है। यह दवा पेट में गैस की समस्या , पेट में जलन की समस्या और एसिडिटी से छुटकारा पाने में सहायक है। भोजन के बाद दिन में दो बार तीन से चार चम्मच तक इस दवा का प्रयोग कर सकते है। इसका सेवन गर्म पानी या नारियल पानी के साथ करे।

एसिडिटी व पेट में जलन की समस्या से निजात पाने का एक उपाय उपवास भी है। ऐसा करने से एसिड मुंह तक नही पहुँच पायेगा और कुछ हद तक आप इस परेशानी से बचे रहेगे। यदि उपवास के दौरान भूख लगे तो फल खाये परंतु कोई ठोस भोजन ना करे।

पेट में जलन और एसिडिटी से बचने के तरीके व परहेज

आजकल बाजारी खाने और फ़ास्ट फ़ूड का सेवन बहुत चलन में है। यह खाना खाने में तो चटपटा, तीखा और स्वाद होता है पर हमारे शरीर की पाचन क्रिया के लिए उतना ही हानिकारक है ऐसा खाना खाने से ही हम पेट में दर्द, जलन और एसिडिटी की समस्याओं से परेशान रहते है। यदि हमे इन समस्याओ से दूर रहना है तो हमे तीखे और चटपटे खाने को छोड़कर पोष्टिक भोजन को दिनचर्या में शामिल करना होगा।

  • सुबह उठकर बिना कुछ खाये पानी के एक गिलास में थोड़ा अदरक का रस, नींबू  का रस, थोड़ा शहद व जीरा पाउडर मिलाकर पीने से एसिडिटी से छुटकारा मिलता है जिससे आप दिनभर एसिडिटी की परेशानी से दूर रहेगे।
  • मुंह में बनने वाली लार को बाहर थूकने की ब्जाय अंदर ही ले यह भी एसिड को कम करने का काम करती है।
  • ठंडी चीज का सेवन करने से भी पेट में जलन की समस्या कम होती है।
  • प्रातिदिन लस्सी और दही का सेवन करे और हो सके तो इसे अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना ले।
  • गाजर का जूस, पत्तागोभी का जूस व कच्चे पपीते का जूस इस समस्या को दूर करने का बेहतरीन उपाय है।
  • खरबूजा, तरबूज,अन्नानास और चीकू का सेवन भी पेट में जलन की परेशानी को दूर करता है।
  • टमाटर व चावल का परहेज करे व उड़द, राजमा की दाल को कभी चावल के साथ सेवन न करे।
  • सुबह सुबह खाली पेट तीन से चार गिलास पानी प्रतिदिन पिए।
  • नारियल पानी का सेवन खाली पेट करने से भी लाभ मिलता है ।
  • दोपहर के समय निम्बू पानी का सेवन करे।
  • रोजाना एक केले का सेवन करे।
  • भोजन करने के बाद गुड़ खाये।
  • पेट खराब होने पर उपाय
  • दादी माँ के घरेलु नुस्खे
  • तनाव दूर करने के टिप्स

दोस्तों एसिडिटी का उपचार के घरेलू उपाय और देसी तरीके, Home remedy tips for acidity treatment in hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास पेट में जलन का इलाज के आयुर्वेदिक नुस्खे है तो हमारे साथ शेयर करे।

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

29 टिप्पणी

  1. ऊपर दिए पेट दर्द और जलन के सारे उपाय कर चुका हूं लेकिन फिर भी कोई आराम नहीं अब तो पेट को हाथ लगाने से भी डर लगता है क्यो की हाथ लगाने से लगता है जैसे जख्म को छुआ हो

  2. Sir मेरी मम्मी को पित्त उछलने की समस्या हो रही है। रोज़ सुबह शरीर पर लाल चकत्ते आ जाते ह फिर काली चाय पीने से ठीक भी हो जाते ह लेकिन ये समस्या रोज़ की है। इससे पहले एलोपैथिक दवाई से instant relief तो मिल गया था but यह समस्या फिर शुरू हो गयी है। please koi solution btay

  3. मेरे पेट में बहुत जोर का दर्द हो रहा हे कुछ दिनों से और जलन इतना जादा की जान निकल रहा है समझ नही पा रहा हु क्या हो गया है कोई उपचार बताये?

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + 11 =

Recent Articles