अश्वगंधा के फायदे नुकसान और सेवन करने का तरीका

Ayurvedic Nuskhe - आयुर्वेदिक नुस्खे अश्वगंधा के फायदे नुकसान और सेवन करने का तरीका

अश्वगंधा के फायदे नुकसान और सेवन कैसे करे इन हिंदी: आयुर्वेदिक तरीके से उपचार में ashwagandha एक ऐसी रामबाण दवा है जो कई रोग ठीक करने में उपयोग की जाती है। अश्वगंधा कैप्सूल, पाउडर और तेल के रूप में आता है जिसे पतंजलि या पंसारी से ले सकते है। अश्वगंधा से होने वाले फायदे में हाइट बढ़ाने और वजन बढ़ाना प्रमुख है। शतावरी के रूप में अश्वगंधा का सेवन करने से कई प्रकार के शारीरिक और मानसिक लाभ होते है। अश्वगंधा को कैसे ले और ये क्या काम करता है, अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो इस लेख को ध्यान से पढ़े, यहां हम अश्वगंधा के फायदे नुकसान और अश्वगंधा के घरेलू उपाय व नुस्खे के बारे में जानेंगे, patanjali ashwagandha powder and capsules benefits in hindi language for men and women.

अश्वगंधा के फायदे और घरेलू उपाय

Ashwagandha Powder Benefits in Hindi

अश्वगंधा एक प्रकार का पौधा है जिससे पाउडर और कैप्सूल के रूप में कई तरह की आयुर्वेदिक दवाइयां बनाई जाती है, इसके साथ साथ कई घरेलू नुस्खे में इस औषधि का प्रयोग किया जाता है।

1. सफेद पानी (लिकोरिया) की वजह से women के शरीर में कमजोरी आने लगती है और साथ ही प्रजनन क्षमता पर भी इसका बुरा असर पड़ता है। अश्वगंधा के सेवन से महिलाओं को इस रोग से काफी राहत मिलती है। ब्रेस्ट का साइज़ बढ़ाने के लिए अश्वगंधा शतावरी के साथ ले।

2. पुरुषों के लिए भी अश्वगंधा चूर्ण से होने वाले फायदे अनेक है। इसके सेवन से men की प्रजनन क्षमता बढ़ती है, शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है, शारीरिक थकान, कमजोरी दूर होती है, शरीर में जोश आता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। जो लोग अनिद्रा के रोग से परेशान है और गहरी नींद नहीं ले पाते उनके लिए अश्वगंधा एक अचूक दवा है।

3. वजन बढ़ाना है तो इसमें भी अश्वगंधा का सेवन काफी फायदेमंद होता है। अश्वगंधा और शतावरी को मिलाकर इसमें बराबर मात्रा में मिश्री मिलाये और रात को सोने से पहले या कसरत के बाद इसका 1 चम्मच पाउडर खाये और ऊपर से गरम दूध पिए। 1 महीना ये उपाय करने पर weight gain होने लगेगा। जाने वजन कैसे बढ़ाये

4. अश्वगंधा से हाइट कैसे बढ़ाये, अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो इसका जवाब है हां अश्वगंधा से हाइट बढ़ती है। लम्बाई बढ़ाने के लिए ये रामबाण आयुर्वेदिक मेडिसिन है। 1 गिलास दूध में 1 चम्मच अश्वगंधा चूर्ण मिला कर इसका सेवन करे। ये उपाय 40 से 45 दिन नियमित करने पर हाइट बढ़ाने में मदद मिलती है।

5. हाई ब्लड प्रेशर के उपचार में भी ये काफी फायदेमंद है। हाई बीपी की बीमारी में अश्वगंधा चूर्ण दूध के साथ सेवन करे। इसका सेवन करने से तनाव भी कम होता है। लो बीपी होने पर इसका सेवन नहीं करना चाहिए। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है।

6. फोड़े फुंसी और जख्म ठीक करने के लिए अश्वगंधा के पत्तों को पीस कर घाव पर लगाए।

7. आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अश्वगंधा, आंवला और मुलेठी को बराबर मात्रा में मिला कर इस पाउडर का 1 चम्मच रोजाना ले।

8. टीबी का देशी इलाज में भी ये दवा काफी फायदा करती है और खांसी भी दूर होती है। इसके उपयोग से बॉडी में आयरन की मात्रा बढ़ती है।

9. कैंसर (cancer) के इलाज में भी ये औषधि काफी उपयोगी है। अश्वगंधा कैंसर के सेल्स को बढ़ने से रोकने का काम करती है।

10. अश्वगंधा कैप्सूल और पाउडर के फायदे, कुछ और रोग भी है जिनके उपाय में अश्वगंधा का उपयोग किया जा सकता है जैसे की वेट लॉस, बॉडी बनाना, गठिया, कफ, अस्थमा, खांसी, स्किन के लिए, बालों के लिए, लिवर के रोग और बॉडी इम्यूनिटी बढ़ाना।

अश्वगंधा के नुकसान – Ashwagandha Side Effects in Hindi

  • अश्वगंधा का सेवन अधिक करने से शरीर में कई तरह के बदलाव होने लगते है, जैसे शरीर का तापमान बढ़ना और बुखार आना। आप को अगर कोई समस्या हो तो इस का सेवन बंद करे और परेशानी ज्यादा होने लगे तो डॉक्टर से मिले।
  • लम्बे समय तक इस के सेवन से दूसरी मेडिसिन शरीर पर जल्दी असर नहीं कर पाती, ऐसे में किसी दूसरी बीमारी के इलाज में ली जाने वाली दवा से जल्दी लाभ नहीं मिलता।
  • शुगर (डायबिटीज), ब्लड प्रेशर व गठिया जैसे रोग के उपचार के लिए अगर अश्वगंधा पाउडर का सेवन करते है तो ध्यान रहे आप इस का सेवन अधिक मात्रा में ना करे।
  • अश्वगंधा के नुस्खे पेट के लिए काफी फायदेमंद है पर इसका सेवन अधिक करने पर ये फायदा करने की बजाय नुकसान कर सकती है, जैसे की दस्त लगना, पेट मे गैस बनना और उल्टी आना।
  • नींद नहीं आने की समस्या को दूर करने में ये काफ़ी उपयोगी है पर इस दवाई का सेवन अधिक करने पर जादा नींद आना या फिर नींद ना आना जैसी समस्याएं होने लगती है जिसका दुष्प्रभाव सेहत पर पड़ता है।

अश्वगंधा का सेवन कैसे करे

  • अश्वगंधा को कैसे खाये ये इस बात पर निर्भर करता है की किस रोग के इलाज के लिए आप इसका सेवन करना चाहते है व आप की उम्र क्या है। बड़ों के मुकाबले बच्चों के लिए इसकी मात्रा कम होती है।
  • अच्छी सेहत पाने के लिए इस दवाई को 2 से 5 ग्राम तक प्रतिदिन ले सकते है। 100 ग्राम मिश्री व 100 ग्राम अश्वगंधा मिला कर रख ले और रात को सोने से पहले दूध के साथ इस मिश्रण का 1 चम्मच ले।
  • किसी रोग के इलाज के लिए अगर आप इसका उपयोग करना चाहते है तो अश्वगंधा को खाने का तरीका उस रोग से जुड़े लेख में जाने।
  • अश्वगंधा चूर्ण और कैप्सूल दोनों रूप में आता है जो आप बाबा रामदेव पतंजलि के स्टोर से या पंसारी से ले सकते है।
  • अगर किसी बीमारी के उपचार के लिए आप कोई देसी दवा या मेडिसिन ले रहे है तो अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर या आयुर्वेदिक चिकित्सक से मिलकर सलाह जरूर ले।
  • गैस, अल्सर व प्रेगनेंसी के दौरान अश्वगंधा कैप्सूल और पाउडर का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • वैसे तो आयुर्वेदिक दवा से नुकसान ना के बराबर होते है पर जब इन को सही तरीके से ना ले या अधिक मात्रा में इसका उपयोग करे तो ये नुकसान भी कर सकते है। इसलिए इनके सेवन से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से मिले और इसे लेने का सही तरीका और सही मात्रा के बारे में विस्तार से जाने।
  • दादी माँ के घरेलु नुस्खे
  • बाबा रामदेव पतंजलि की आयुर्वेदिक दवाइयां

दोस्तों अश्वगंधा के फायदे नुकसान और घरेलू उपाय, Ashwagandha Benefits and side effects in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल व पाउडर का सेवन कैसे करे से जुड़े नुस्खे और सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

66 टिप्पणी

    • अश्वगंधा के सेवन के साथ साथ अपने आहार में पौष्टिक फ़ूड खाये और योग व एक्सरसाइज के लिए भी समय निकाले, कई बार हाइट का ना बढ़ना अधिक उम्र या जेनेटिक कारण भी होता है.

  1. मुझे पेट की समस्या है जैसे कि गैस एसिडिटी कब्ज आदि तो क्या मैं हिमालया अश्वगंधा कैप्सूल का उपयोग कर सकता हूँ कृपया उचित सलाह देवे।

  2. मुझे हर वक्त कितना भी सो लू फिर भी नींद नहीं जाती हर वक्त सोने का मन करता कोई उपाय बताए जिससे मेरी नींद कम हो सके.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × four =

Recent Articles