बुखार के इलाज के 10 घरेलू नुस्खे – Easy Tips for Fever Treatment in Hindi

Home Remedies - घरेलू नुस्खे बुखार के इलाज के 10 घरेलू नुस्खे - Easy Tips for Fever...

बुखार के इलाज: जब हमें या घर पर किसी को बुखार होता है तब सबसे पहले हम क्रोसिन या किसी एंटीबायोटिक से बुखार ठीक करने का प्रयास करते है। इन एलोपैथिक  दवाओं  से बुखार में आराम तो मिल जाता है पर ये मेडिसिन्स हमारे लिवर पर बुरा प्रभाव डालती है। बुखार का उपचार इसके लक्षणों के आधार पर होता है। कई बार किसी चीज से इंफेक्शन से और कई बार मौसम बदलने के कारण बुखार हो जाता है। शुरूआती लक्षण को अगर समय पर ही पहचान लिया जाये तो बुखार के असर से बचा जा सकता है और ज़रूरत पड़ने पर इसका इलाज भी कर सकते है। बुखार कई प्रकार का होता है जैसे अंदरूनी बुखार, दिमागी बुखार, टाइफाइड, वायरल फीवर और मलेरिया। इस लेख में हम बुखार के कारण, परहेज और बुखार का इलाज के घरेलू नुस्खे जानेंगे। Tips for Viral Fever Treatment in Hindi.

बुखार के कारण क्या है

मौसम बदलने के कारण बुखार होना आम है जिससे घबराने की कोई बात नहीं। वायरल फीवर किसी वाइरस की वजह से फैलता है जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमज़ोर होने पर होता है। जिन लोगों की body immunity मजबूत है उन्हें वायरल फीवर होने का खतरा कम होता है।

वायरल फीवर का उपचार कैसे करे

वायरल बुखार में शरीर का तापमान 100 से 103 डिग्री या इससे भी जादा हो सकता है। फ़्रिज़ में रखा ठंडा पानी पीने, कोल्ड ड्रिंक्स पीने और ठंड लगने से वायरल बुखार होने की सम्भावना अधिक होती है। इस बुखार का वायरस एक व्यक्ति से दूसरे में सांस के द्वारा तेज़ी से फैलता है। छोटे बच्चों में वायरल फीवर होने से दस्त, उल्टी, खाँसी, ठंड लगना और सिर दर्द जैसी परेशानियां होती है। Viral fever आम बुखार जैसा ही होता है, बीमारी का सही पता लगाने के लिए एक बार डॉक्टर से जांच ज़रूर करवाए।

बुखार के इलाज के घरेलू नुस्खे और उपाय – Fever Treatment Tips in Hindi

1. तिल के तेल या घी में लहसुन की 5 से 7 कलियाँ तोड़ कर तल ले। अब इसमें सेंधा नमक डाल कर मरीज को खिलाए। किसी भी वजह से बुखार हो इस उपाय से उतर जाएगा।

2. अगर बुखार तेज हो तो मरीज के माथे पर ठंडे पानी में भीगी पट्टियां रखें और ये तब तक करे जब तक शरीर का temprature कम ना हो जाए। पट्टी रखने के कुछ देर बाद गरम हो जाती है, ऐसे में थोड़ी देर बाद इसे फिर से पानी में भिगो कर सिर पर रखे।

3. सर्दी और जुकाम के कारण बुखार हुआ हो तो मुलेठी, शहद, तुलसी और मिश्री को पानी में अच्छे से मिला कर गाढ़ा बनाये और मरीज को पिलाए। इस आयुर्वेदिक नुस्खे से जुकाम का इलाज होता है और बुखार में भी आराम मिलता है।

4. बुखार से पीड़ित व्यक्ति के शरीर में पानी की कमी ना हो इसलिए जरुरी है पानी अधिक मात्रा में पिए। पानी में ग्लूकोस घोल कर भी ले सकते है। पानी पीना हो तो पहले उसे उबाल कर रखे और बाद में इसमें से ही पानी पिए। गुनगुना पानी पीना जादा बेहतर है।

5. एक चम्मच सिरका 1 कप गरम पानी में डाल कर इसमें आलू का एक टुकड़ा भिगो कर रोगी के सिर पर रखने से बुखार में आराम मिलेगा।

6. बुखार आने पर रोगी को जादा से जादा आराम करना चाहिए और खाने पिने का भी पूरा ध्यान रखे। दूध, साबूदाना और मिश्री जैसी हल्की फुलकी चीज़े खाने को दे। नारियल पानी और मौसमी का जूस पीना भी अच्छा होता है।

7. अगर गर्मी में लू लगने से बुखार या टाइफाइड की समस्या हुई है तो कच्चा आम पानी में पका ले और इसके रस को पानी में घोल कर पिये।

8. पुदीने और अदरक का काढ़ा पीने से भी बुखार में आराम मिलता है। काढ़ा पीने के बाद आराम करे, बाहर हवा में ना निकले।

9. मौसम में आए हुए बदलाव से बुखार हुआ हो तो तुलसी की चाय के सेवन से आराम मिलता है।

10. लहसुन की कुछ कलियाँ पीस कर सरसों के तेल में डालें और गरम करे। तेल ठंडा होने के बाद इससे पैरों के तलवों की मालिश करे।

अगर आप आयुर्वेद की दवा लेना चाहते है तो बाबा रामदेव की किसी भी पतंजली या फिर पंसारी की दुकान से भी ले सकते है।

बुखार में परहेज क्या करे

  • अगर मरीज को वायरल फीवर है तो उसके प्रयोग की हुई चीजों का इस्तेमाल ना करे और रोगी के आस पास सफाई का पूरा ध्यान रखे।
  • बुखार से पीड़ित व्यक्ति को अपने पास रुमाल रखना चाहिए और जब भी खाँसी या छींक आये तब रुमाल का प्रयोग अवश्य करे ताकि वायरस दूसरे लोगों में ना फ़ैल सके।
  • बुखार में दही और ठंडी चीजें खाने पिने से बचे और हल्का भोजन करे।

कब्ज़ का इलाज करने के सफल उपाय

ब्लड प्रेशर का उपचार कैसे करे

दादी माँ के घरेलु नुस्खे और उपाय

बाबा रामदेव आयुर्वेदिक उपाय

दोस्तों बुखार का इलाज के घरेलू नुस्खे और उपाय, Viral Fever Treatment Tips in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा हमें कमेन्ट के जरिये बताये और अगर आप के पास बुखार के उपचार के आयुर्वेदिक और देसी तरीके हो तो हमारे साथ भी शेयर करे।

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

89 टिप्पणी

    • सुनील जी बुखार के इलाज के घरेलू तरीके ऊपर लेख में बताये गए है, अगर इन उपयों से आराम न मिले तो डॉक्टर से चेकअप करवाये ताकि बुखार के कारण जानकर सही तरीके से उपचार कर सके।

    • दोस्त ये चिकनगुनिया के लक्षण हो सकते है और कोई और रोग भी हो सकता है, बीमारी का पता लगाने के लिए आप डॉक्टर से चेकअप करवाये ताकि सही दिशा में आप उपचार कर सके.

    • शिवराज जी बुखार का घरेलू इलाज और आयुर्वेदिक नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है आप इन्हें पढ़े और अगर इनसे आराम न मिले तो डॉक्टर से चेकअप करवाये.

    • शमिका जी टाइफाइड मलेरिया जैसे रोगों में भी बुखार आता है। बुखार आने के बहुत से कारण हो सकते है, आप किसी दूसरे डॉक्टर से मिले और जाँच करवाये ताकि बीमारी का सही से पता चले तभी आप इसका इल्स्ज सही दिशा में कर सकेंगी।

  1. Sir mujhe ek baar tified hua tha lekin ab kabhi bukhar hota hai to mujhe tified jaisi ghand aati hai aor chere par त्वचा मोटी हो जाती है और चमक ख़त्म हो जाती है और अजीब सी गन्ध आती है —- सर मैने टाईफाईड का देसी इलाज किया था । अंजीर खुबकला मुनक्का वाली विधि से । और अब मुझे बुखार है मैं कोई भी दवाई नहीं लेता हूँ अपने आप उत्तर जाता है 3 से 4 दिन में । सर मुझे बताय की यह टाइफाईड के लक्षण तो नहीं है

    • दोस्त पहले तो ये जाने की आप को ये समस्या क्यों आ रही है, बुखार उतरने के घरेलु नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है आप इन्हें पढ़े और अगर उपाय करने के बाद भी आराम न मिले तो डॉक्टर से जाँच करवाये।

  2. अच्छा है वायरल का ट्रीटमेंट लेकिन पक्का इलाज बताए की हाँ खत्म हो जाएगा बुखार दवाई खाने की जरूरत नही पड़ेगी
    क्या ये घरेलू उपचार करके हमे डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नही पड़ेगी

    • आप पहले डॉक्टर से मिले और जाँच करवाए, बुखार होने के बहुत से कारण हो सकते है, सही तरीके से इलाज के लिए पहले रोग की सही जानकारी होना चाहिए.

    • दोस्त अगर दवा लेने पर भी बुखार ठीक नहीं हो रहा है तो पहले चिकित्सक से मिले और टेस्ट करवाए ताकि बुखार होने के कारण पता चले और सही तरीके से इलाज हो.

  3. 3 साल के बच्चे को वायरल फीवर है खुश की जांच करवा ली दवा देने के बावजुद बुखार बहुत ज्यादा होता है बच्चे का पुरा शरीर खोलने लगता है क्या करे.

    • दवा लेने से एक बार बुखार में आराम जरूर मिलता है पर इसके लक्षण ख़तम नहीं होते, दोस्त आप पहले डॉक्टर से मिलकर टेस्ट करवाए ताकि बुखार आने के कारण पता लगे और सही दिशा में इलाज हो.

    • बुखार में सर्दी खांसी और सिर दर्द की परेशानी अक्सर होती है, नींद ज्यादा आना दवा के असर या कमजोरी आने से हो सकता है. अगर दवाई लेने पर भी बुखार ठीक ना हो तो एक बार टस्ट करवाए ताकि बुखार आने के कारण पता लगे और सही तरीके से इलाज हो सके.

  4. हमारे अंदर में बुखार रहता है जिससे कि हमारे शरीर बिल्कुल नहीं बन पाते है और हमें महसूस भी होता अंदर बुखार है इसके लिए आप कोई ना कोई उपाय जरूर बताएं धन्यवाद.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + 9 =

Recent Articles