Home Eye Health - आँखों की सेहत Eye Allergies - आँख की एलर्जी आई एलर्जी के प्रकार क्या हैं

आई एलर्जी के प्रकार क्या हैं

0
622

आजकल की जिंदगी के आँखों में एलर्जी या परेशानी किसी के भी साथ हो सकती है ऐसे में हम सभी को ये जानना बहुत जरुरी है की हमारी आँखों में परेशानी और एलर्जी कौन सी है| अगर आपकी आँख में एलर्जी हो तो आपको बिलकुल भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से इलाज कराना चाहिए वरना आपकी आँख की रौशनी तक जा सकती है| आज हम आपको आई एलर्जी कितने प्रकार की होती है इसके बारे में महत्वपूर्ण जानकारी देंगे –

1 – बैक्टीरियल कंजंक्टिवाइटिस – अगर आपकी आँख में बहुत अधिक कीचड़ आ रहा हो और जब आप सुबह सोकर उठते है तो आपकी आँखों में चिपचिपाहट और आपस में चिपकी रहती है तो आपकी आँखों में बैक्टीरियल कंजंक्टिवाइटिस हो सकता है| बिना कोई देरी किए हुए डॉक्टर को दिखाए|

2 – वायरल कंजंक्टिवाइटिस – आपकी आँख में पानी आ रहा हो साथ में कीचड भी आ रहा हो और आपकी आँख भी लाल हो तो आपकी आँख में वायरल कंजंक्टिवाइटिस हो सकता है| वायरल कंजंक्टिवाइटिस में मरीज को खासतौर पर ध्यान रखना पड़ता है,क्योंकि मरीज के छींकने और खांसने से ये बीमारी फ़ैल सकती है| पहले ये एक आँख में होता है फिर दूसरी आँख में भी हो सकता है| इसीलिए तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए|

3 – एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस –  आमतौर पर पेड़ो में पाए जाने वाले पॉलेन, जानवरों की रूसी, धुल इत्यादि चीजों से हो एलर्जी सकती है ऐसी एलर्जी को एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस कहते है| इसमें आपकी आँखे लाल और उसमे खुजली की भी शिकायत रहती है| आँख में खुजली आने पर खुजाना नहीं चाहिए अगर आप खुजाते है तो इससे आपकी आँख की एलर्जी बड़ सकती है| बहुत ज्यादा खुजली आ रही हो तो डॉक्टर से आई ड्राप ले या बहुत हलके हाथ से आँख के पास मल ले | एलर्जिक कंजंक्टिवाइटिस होने पर लापरवाही न करे अन्यथा एलर्जी आपकी आँख को बहुत ज्यादा नुक्सान पंहुचा सकती है|

4 – विशाल पैपिलरी कंजंक्टिवाइटिस – विशाल पैपिलरी कंजंक्टिवाइटिस आमतौर पर आँखों में लेंस पहने वालो के साथ ज्यादा होती है| इसमें आपकी आँख में भारीपन, पानी आना, लाल होना, खुजली आना इत्यादि परेशानी का सामना करना पड़ सकता है| ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए थोड़ी सी भी लापरवाही आपकी आँखों में परेशानी और कई बार तो आँखों की रौशनी तक जा सकती है| विशाल पैपिलरी कंजंक्टिवाइटिस होने पर डॉक्टर आपको सबसे पहले कांटेक्ट लेंस पहनने को मना करते है  और अगर बहुत पहनना बहुत जरुरी है तो लगातार कभी ना लगाए|

5 – गैर-संक्रामक कंजंक्टिवाइटिस – धूम्रपान, किसी भी प्रकार का धुआं, इत्र और कुछ रसायन पदार्थो की वजह से आपकी आँख लाल और उसमे जलन होती है तो आपकी आँख में गैर-संक्रामक कंजंक्टिवाइटिस हो सकता है| तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से मिले और इलाज कराए|

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − nine =