Home Eye Health - आँखों की सेहत Retinis pigmentosa - रेटिनिस पिगमेंटोसा कैसे रेटिनिस पिगमेंटोसा को होने से रोका जा सकता है

कैसे रेटिनिस पिगमेंटोसा को होने से रोका जा सकता है

0
209

आजकल के प्रदूषित वातावरण और अन्य कई कारणों से हमारे शरीर में बहुत सारी कमी हो जाती है, जिसकी वजह से कई बार हमारी आँखों में भी कई सारी परेशानी हो सकती है। अगर हमारे शरीर में विटामिन ए की कमी हो जाती है तो आपकी आँखों में रेटिनिस  पिगमेंटोसा जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती है। जिससे बचने के लिए हम सबको संतुलित और विटामिन्स से भरपूर भोजन करना चाहिए।

अभी तक रेटिनिस पिगमेंटोसा की बीमारी को रोकने के लिए कोई प्रभावी तरीका नहीं मिल पाया है, लेकिन कुछ सावधानी जरूर बरतने से आप इस परेशानी से बच सकते है। सभी माँ बाप को अपने छोटे बच्चो का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है, जिसका सबसे कारण होता है अगर बच्चो की आँखों में रेटिनिस पिगमेंटोसा की परेशानी हो जाती है तो वो ना तो खुद समझ पाते है और ना ही किसी को बता पाते है। ऐसे में उनकी परेशानी उनकी उम्र के साथ साथ बढ़ती चली जाती है, जिसकी वजह से बहुत ही कम उम्र में उनकी आँखों में मोतियाबिंद की परेशानी भी हो सकती है। कई बार लापरवाही करने पर आपके बच्चे की आँख की रौशनी भी बाधित हो सकती है।

यदि किसी भी बच्चे के माँ बाप को रेटिनिस पिगमेंटोसा की बीमारी हो तो उन्हें अपने बच्चो की आँखों की जाँच नियमित रूप से करवानी चाहिए, जिससे आँखों में होने वाली परेशानी का पता शुरुआत में ही चल जाए और आसानी से इलाज हो सकता है। कई बार बहुत से लोग जिन्हे सामने की चीजे तो साफ़ दिखाई देती है, लेकिन दाएं और बाएं तरफ की चीजे साफ़ दिखाई नहीं देती है, ऐसा हो जाने पर वो लापरवाही कर देते है या अपनी मर्जी से दवाई लेकर आँखों में डाल लेते है, जिसकी वजह से परेशानी दूर नहीं होती है। अंत में ऐसे लोग अपनी आँखों की रौशनी तक खो देते है। इसलिए हम आपको सलाह देंगे की कभी भी कोई सी भी अपनी मर्जी से दवाई मेडिकल से लेकर आँखों में नहीं डालनी चाहिए वरना आप अंधे भी हो सकते है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − 10 =