भेंगापन ठीक होने के लिए किस तरह की सर्जरी होती है

Cross Eyes Strabismus - भेंगापनभेंगापन ठीक होने के लिए किस तरह की सर्जरी होती है

आँखों का भेंगापन का इलाज : भेंगापन अगर किसी की आँखों में हो जाए तो वो बहुत परेशान हो जाता है की उसकी आँखे सही कैसे हो| इसके लिए सब लोग अपने हिसाब से इलाज करते है कुछ होम्योपैथिक, एलोपैथिक और आयुर्वेदिक के दवारा अपना इलाज कराते है| डॉक्टर सबसे पहले कोशिश करते है की भेंगापन दवाई, चश्मा और पट्टी इत्यादि से ठीक हो जाए तो बेहतर है अन्यथा फिर आपकी आँखों की सर्जरी करनी पड़ती है| भेंगेपन की सर्जरी करने के लिए लगभग 1 से 2 घंटे लग जाते है| हमारी आँखों के आसपास 6 मांसपेशिया होती है, सर्जरी करने से सबसे पहले मरीज को एनेस्थीसिया दिया जाता है, उसके बाद स्पिल स्पेकुलम की मदद से पलकों को खोल लेते है| 

फिर डॉक्टर आप की आँखों की मांसपेशियों को देखते है, अगर आपकी आँख में कोई नस अगर अपनी सही जागर पर नहीं है या किसी मांसपेशिया में कोई कट या गल गई है या किसी मांसपेशिया को बढ़ाने की जरुरत होती है तो उसे बदल देते है या उसमे टांका लगा देते है जिससे वो मांसपेशी सही हो जाती है और टांके अपने आप घुल जाते है| ऑपरेशन करने के बाद आँखों पर पट्टी बांध दी जाती है आमतौर पर पट्टी अगले दिन खोल दी जाती है लेकिन कई बार पट्टी कुछ दिनों के लिए बांधी जाती है| 

भेंगापन के लक्षण

इस बीमारी में एक आंख से दूसरी आंख का तालमेल नहीं रहता है| इस के चलते एक आंख की देखने की दिशा और दूसरी आंख की देखने की दिशा में फर्क आ जाता है|इस बीमारी में दोनों आंखों के परदे पर एक ही समय में एक चीज का अलग अलग चित्र बन जाता है | भेंगेपन के आम लक्षण कुछ इस तरह हैं :-

  • आंखों का एक समय में एक दिशा में न देख पाना। 
  • दोनों आँखों का साथ न चलना। 
  • उज्जवल सूरज की रौशनी में एक आँख बंद करना या टेढ़ी करना। 
  • एक वस्तु को देखने के लिए सर को झुकाना या मोड़ना। 
  • बार बार टकराने की समस्या।  

भेंगापन का इलाज: घरेलु उपचार,और परहेज

सर्जरी के बाद आपकी आँखों में दर्द, जलन, आंखों का लाल होना इत्यादि की परेशानी हो सकती है जिसके लिए आपको दर्द निवारक आई ड्रॉप देते है जिससे आपकी आँखों में होने वाली परेशानी से मुक्ति मिल जाए| सर्जरी होने के बाद आपको बहुत सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ता है| चलिए आज हम आपको सर्जरी के बाद क्या सावधानी बरतनी चाहिए इसकी जानकारी देंगे –

  1. भेंगेपन की सर्जरी के बाद मरीज को कम से कम 20 से 25 दिन तक साबुन, शैम्पू इत्यादि का इस्तेमाल करने से मना किया जाता है|
  2. मरीज को टीवी, मोबाइल और कंप्यूटर इत्यादि के इस्तेमाल को भी मना किया जाता है, अगर आप ऐसा नहीं करते तो आपकी आँखों में परेशानी बड़ सकती है|
  3. मेकअप करने से बचना चाहिए, कोई भी क्रीम, लोशन इत्यादि का उपयोग भी नहीं करना चाहिए| ये सब आपकी आँखों को नुकसान पहुंचा सकते है|
  4. आँखों के भेंगापन की सर्जरी होने के बाद आपको एक नियमित अंतराल के बाद आपको डॉक्टर के पास जाना होता है जिससे डॉक्टर आपकी आँखों को चेक करता है और सर्जरी के बाद कोई परेशानी तो नहीं हो रही है| इसलिए डॉक्टर दवारा दी गई आई ड्रॉप को सही समय पर अपनी आँखों में जरूर डालते रहे|
  • अगर हमारी आँखों में भेंगापन आ जाये या आँखों की रौशनी कम हो जाये तो हमे दिखाई भी कम देने लगता है | कई बार ऐसा होता है कि पैसे कमाने की जरूरत के लिये देर रात तक जागना, या फिर घंटो काम करना हमारी मजबूरी बन जाती है ऐसे में हमारी आँखों के आस- पास की मांसपेशियां अपने लचीलेपन को खो देती है और कठोर हो जाती है नतीजा कम उम्र में ही दृष्टि दोष हो जाता है |

आँखों का भेंगापन के लिए योग

  • योग से हमें कई स्वास्थ्य लाभ मिलता है तो आपको बता दे की आँखों के लिये भी योगा बेहद फायदेमंद है तो आइये जानते है की योगा किस तरह से भेंगापन का इलाज में और आँखों की रोशनी बढ़ाने में फायदेमंद साबित होता है 
  • अब बात करते है उन योगो की जो भेंगेंपन को नष्ट करने में और आँखों की रोशनी बढ़ाने में फायदेमंद होता है |
  • शवासन,अनुलोम विलोम प्राणायाम,त्राटक आसन इत्यादि को रोजाना करना चाहिए, इससे आपको काफी जल्दी आराम मिलेगा|

Recent Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent Articles