आई फ्लू से जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

Eye Flu - आई फ्लूआई फ्लू से जुड़े जोखिम और जटिलताएं क्या हैं

आँखे हमारे चेहरे की ख़ूबसूरती को बढ़ाती है अगर किसी भी इंसान की आँखों में थोड़ी सी भी परेशानी हो जाती है तो हम काफी विचलित हो जाते है| आई फ्लू की परेशानी अधिकतर बच्चो की आँखों में ज्यादा होती है|आँखों में परेशानी कभी भी और किसी भी मौसम में हो सकती है, लेकिन आँखों की ज्यादातर परेशानी कुछ ही दिनों में अपने आप खत्म हो जाती है लेकिन कई बार परेशानी खत्म होने की बजाय बढ़ जाती है| कभी भी आँखों में परेशानी होने पर अपनी मर्जी से या किसी और की सलाह पर कोई भी आईड्रॉप अपनी आँखों में नहीं डालना चाहिए, ऐसा करने से कई बार आपकी आँखों की परेशानी काफी बढ़ जाती है और आपकी रौशनी तक पर असर डाल सकती है|

आँखों में परेशानी होने पर डॉक्टर के पास जाना चाहिए और अपनी आँखों की जाँच और इलाज कराना चाहिए| अधिकतर आई फ्लू की परेशानी 2 से 3 दिन के अंदर अपने आप सही हो जाती है और ना ही इससे कोई गंभीर परेशानी होती है| लेकिन कई बार आई फ्लू के कारण आँखों के कॉर्निया पर सूजन आ जाती है, जिसका अगर इलाज ना करा जाए तो ये आपके देखने की क्षमता पर काफी असर डाल सकती है| इसीलिए आई फ्लू होने पर तुरंत किसी नेत्र चिकित्सक के पास जाना जरुरी है वरना कॉर्निया से सम्बंधित परेशानी हो सकती है, जिसकी वजह से कई बार आँखों की रौशनी तक खत्म हो सकती है|

आई फ्लू जैसी बीमारी में सावधानी रखना बहुत जरुरी होता है,  अगर आप सावधानी नहीं रखते है तो काफी नुक्सान उठाने पड़ते है| बहुत से लोग आई फ्लू का उपचार घरेलु नुस्खे अपनाकर भी कर लेते है, लेकिन अगर 2 दिन तक घरेलु नुस्खे अपनाने के बाद भी आपकी आँखों में कोई आराम नहीं हो रहा हो तो कभी भी देरी नहीं करनी चाहिए तुरंत आँखों के किसी अच्छे डॉक्टर के पास जाना चाहिए|

Recent Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent Articles