Home Home Remedies - घरेलू नुस्खे गले और छाती में जमा कफ (बलगम) का इलाज 5 आसान उपाय

गले और छाती में जमा कफ (बलगम) का इलाज 5 आसान उपाय

48
1014
कफ का इलाज और आयुर्वेदिक उपचार, Balgam ka ilaj in hindi

गले और छाती में कफ (बलगम) का इलाज और उपाय इन हिंदी: सर्दी जुखाम, वायरल बुखार, इन्फेक्शन और ठंड लगने के कारण अक्सर गले में कफ का बनना की शिकायत होने लगती है। लगातार नाक बहना, छाती (सीने) और गले में कुछ जमा हुआ महसूस होना, सांस लेने में तकलीफ होना, गले में खराश खिचखिच रहना, छाती जाम होना, ये सब कफ के लक्षण होते है। गले की बलगम से छुटकारा पाने और बलगम वाली खांसी को दूर करने के लिए कुछ लोग दवा और सिरप का सहारा लेते है पर देसी इलाज और आयुर्वेदिक उपचार अपना कर आसान तरीके से कफ निकालने के घरेलू उपाय किये जा सकते है। आज इस लेख में हम जानेंगे गले और छाती में जमा कफ कैसे निकाले, natural ayurvedic home remedies (gharelu nuskhe) for cough balgam treatment in hindi.

वैसे तो कफ की समस्या ज्यादा गंभीर नहीं होती पर जब ये लम्बे समय तक रहे तो सांस से जुड़े रोग हो सकते है। अगर बलगम में खून के कुछ अंश दिखे तो तुरंत डॉक्टर से मिले और जाँच कराये ताकि किसी भी तरह की गंभीर बीमारी से बचा जा सके।

कफ का इलाज और आयुर्वेदिक उपचार, Balgam ka ilaj in hindi

 

बलगम जमने के कारण

  • ज्यादा धूम्रपान करना
  • वायरल इन्फेक्शन होना
  • साइनस का रोग
  • सर्दी जुखाम और फ्लू

 

छाती में कफ के लक्षण

  1. सांस लेने और खाँसने पर घरघराहट की आवाज आना
  2. गले में खराश रहना
  3. बलगम वाली खांसी होना
  4. सीने में जकड़न और दर्द महसूस होना
  5. लगातार छीकें आना और सांस लेने में तकलीफ होना

 

कफ का इलाज घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक उपचार

Cough Ka ilaj Ke Gharelu Nuskhe Upay in Hindi

 

बलगम से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका है इससे शरीर से बाहर निकालना क्योंकि बलगम निगलने से ये वापस शरीर में चली जाती है और बहती नाक को अंदर रखना परेशानी बढ़ा सकता है। आइये जाने घरेलू नुस्खे से कफ निकालने के उपाय कैसे करे।

1. गले की बलगम का देसी इलाज करने के लिए दो कप पानी में 30 काली मिर्च पीस कर उबालें, जब पानी एक चौथाई रह जाये तब इसे छान कर इसमें 1 चम्मच शहद मिलाये और सुबह शाम इसका सेवन करे। इस होम रेमेडीज से कफ वाली खांसी और कफ दोनों से छुटकारा मिलता है।

2. लहसुन खाने से गले में जमा कफ बाहर निकलता है, इस desi nuskhe से टी. बी. के रोग में भी राहत मिलती है।

3. अदरक छील कर इसका छोटा टुकड़ा मुंह में रख कर चूसने से कफ आसानी से बाहर निकल जाती है।

4. छोटे बच्चे की छाती में जमा कफ (baby cough) निकालने के लिए गाय के घी बच्चे की छाती पर मले। इस उपाय से जमा हुआ बलगम बाहर निकल जाता है।

5. एक चम्मच शहद और 2 चम्मच निम्बू का रस गर्म पानी में मिला कर पिए। इस उपाय से गला साफ़ होगा क्यूंकि नींबू बलगम को काटने का काम करेगा और शहद से गले को आराम मिलेगा।

6. कफ का आयुर्वेदिक रामबाण इलाज, गले में बलगम, खांसी, छाले, खराश, जलन, दर्द, टॉन्सिल और गले की कोई भी समस्या हो कच्ची हल्दी का रस मुंह खोल कर गले में डालें और कुछ समय चुप बैठे। जैसे ही ये रस गले से निचे उतरेगा परेशानी कम होने लगेगी। छोटे बच्चों को जब टॉन्सिल्स का दर्द हो तो ये उपाय जरूर करे। गले के रोग का उपचार के लिए ये अचूक दवा है।

7. छोटे बच्चों की कफ का उपचार करने के लिए थोड़ा सा प्याज का रस ले और इसमें थोड़ी शक्कर मिला कर बच्चे को दे।

 

बलगम वाली खांसी का इलाज और घरेलू उपाय

  • बलगम वाली खांसी होने पर बार बार खांसने पर भी कफ बाहर नहीं निकल पाता और जब तक chest और गले की बलगम बाहर नहीं निकलती तब तो खांसी होती रहती है।
  • दो कप पानी में मुलहठी चूर्ण 5 ग्राम की मात्रा में डाल कर उबालें और जब पानी आधा कप रह जाये तब इसे छान ले। इस काढ़े को आधा सुबह और आधा शाम को पिए। 2 से 3 दिन ये उपाय करने पर कफ पतला हो कर आसानी से बाहर निकल जायेगा और खांसी भी ठीक होने लगेगी।
  • अनार का रस गर्म कर के पिने से खांसी तुरंत ठीक हो जाती है।
  • कफ वाली खांसी का घरेलू उपचार में काली मिर्च दवा का काम करती है। काली मिर्च चूसने से खांसी में आराम मिलता है।

 

कफ को दूर करने के आसान उपाय

  • पानी ज्यादा पिए, शरीर से बलगम बाहर निकालने के लिए दिन भर में हर घंटे पानी पिए।
  • सीने, गले और नाक से बलगम तोड़ने के लिए भाप ले। ये बलगम खत्म करने का तरीका काफी आसान और फायदेमंद है।
  • Gale mein balgam ka ilaj, एक गिलास गरम पानी में 1 चम्मच नमक मिला कर इससे गरारे करे। दिन में 2 से 3 बार ये उपाय करने पर नाक और गले में जमा बलगम बाहर निकलने लगती है।
  • बलगम बनने से रोकने के लिए डेयरी प्रोडक्टस का सेवन ना करे जैसे की चीज़, दूध, दही और आइसक्रीम। इसके इलावा ज्यादा तला हुआ खाना भी ना खाएं।
  • धूम्रपान ना करे, धुँआ शरीर में balgham को बढ़ाता है और शरीर का जल्दी ठीक होने की क्षमता को कम करता है।
  • मसालेदार खाना नाक की बलगम तोड़ता है और इसे आसानी से बहने देता है।

 

दोस्तों कफ का इलाज और आयुर्वेदिक उपचार, Cough Balgam Ka ilaj Upay in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास गले और छाती में जमा बलगम निकालने के उपाय और कफ वाली खांसी दूर करने के घरेलू नुस्खे से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

48 COMMENTS

    • कफ बनने के कारण और इससे बचने के उपाय ऊपर लेख में बताये गए है आप लेख को पढ़े.

        • कफ और कफ वाली खांसी का इलाज के लिए घरेलू उपाय और नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है आप लेख पढ़े.

          • Mujhe 1 year se balgam aa raha hai aur maine TB ka bhi ilaj kar liya hai par sir ji left side se balgam nikalta hai ban ke ro sir ji left side dikat lagta hai.

  1. i am dharmendra kumar from patna 6 month se khasi hai par thand me naak se pani nikalta hai or balgam hai thoda sa subha ke karib balgam ke sath blood.

    • pahle checkup karao acche doctor se aur paani ka bhaap lo meetha mat khaao dairy products mat use karo, paani ki matra badha do garm paani hi use karo pine ke liye halka garm. Saath hi balgam ki bhi jaanch karao zald se zald.

  2. Meri mamma ke sinus ki problem hai unke cold nhi lagta jisme balgam sir me jam gyi hai or aadha sir dard hota hai is problem ko kaise thik kar sakte hai.

  3. Sir mujhe sirf chati me kuf hai mujhe kabhi bhi khansi nahi aati to main kaise karo batao mujhe chati ke beech me ghabrahat hoti hai bar bar iska ilaj to batao na sir plz.

  4. Sir mere gale me kharash 3 din se hai aur chati bhari bhari lagti hau cough nikalti nahi garam pani or namak ka nuskha kar ke dekha magar kuch nahi hota.

  5. मेरे साथ ये समस्या है कि मैं बलगम को खास के निकाल नहीं पाता बस नाक छिड़क के ही निकाल पाता हूँ और जिसके वजह से बलगम गले में ही जमा रहता है.

  6. मेरे को छाती और गले में दर्द है और खून भी आता है.

    • भाई साहब आपकी समस्या बहुत गंभीर है, तुरंत अच्छे डाक्टर से अपना इलाज करवाओ.

    • गला और आवाज बैठने के उपाय और घरेलू उपचार से जुड़ी जानकारी का लेख हम ने साँझा किया हुआ है आप उस लेख में बताये गए उपाय पढ़े.

    • बलगम का इलाज के उपाय और नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है आप लेख पढ़े.

  7. mere ko garmi me khasi hoti hai aur kuf bhi nikalta hain lekin ek baat hai ki thand me khansi nhi hoti.

  8. Cough jama hua hai gale pe jitni bar try karo nikalne ki nikalta hi hai one side ki nose pe saas kam aati hai. But Sardi nhi hai medicine bahut le li cough aur sardi ki problem vesi ki hi vesi solution dijiye.

  9. एक दिन मेरे बहुत तेज़ पसीना आ रहा था और मुझे प्यास लगी तो मैं उसी वक़्त बहुत ठंडा पानी पी गया अब मेरा गला जाम हो गया और अचानक बहुत तेज़ खांसी भी चलती है क्या करू.

  10. Jukham hote hi cough ki problem bahut jada hoti hai aur gale me hamesha aese lagta hai jese cough hai karib 1-2 years se koi accha solution btao.

  11. Jukham hote hai to cough ki problem bahut ho jati hai aur jukham thik ho jane ke bad bhi gale me cough halka halka banta rahta hai usko nikalne ka pryas karte hai to nikalta nahi hai aur kabhi kabhi nikalta hai to larva ka jaisa nikalta hai ye samasya karib 2 years se hai kripya kar ke koi achhi dawa bataye sir bahut preshan hai.

  12. मुझे दिवाली से एक महिने पहले से कफ और सांस लेने में बहुत तकलीफ होती है और ट्रेवल के दौरान तो बहुत ही, इसकी वजह से मैं कहीं घर के बाहर भी नहीं निकल पाता हूँ कृपया इसका इलाज बताये.

  13. Mera naam gaurav swami hai mujhe ek bar agar khasi ho jati hai to mahino tak nhi jati hai dwaiya aur desi ilaj se koi jada farak nhi hota smoking karta hu sir par mujhe 2 upay btaiye khasi aur smoking ko kese chode bhot koshish kar chuka hu par nhi chut rhi hai.

    • गले और छाती में जमा बलगम कैसे निकाले इसके उपाय और घरेलू नुस्खे ऊपर लेख में बताये गए है.

  14. अस्थमा के रोगी खाँसी से छुटकारा कैसे पाये.

  15. Mujhe 20 dino se gale me kuch chubhan jesi hoti hai khasi, balgam, kharash aur dard bhi nahi hota hai. Lekin kabhi kabhi lagta hai mera gala ghut rha hai aur gala bhi sukhta rehta hai, haldi aur namak garam pani se garare karne pe chubhan band ho jati hai fir 1, 2 ghante bad hone lagta hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − four =