Home Home Remedies - घरेलू नुस्खे जानिए मुंह के छाले की दवा,लक्षण और घरेलू उपाय (Muh ke chale...

जानिए मुंह के छाले की दवा,लक्षण और घरेलू उपाय (Muh ke chale ka upay )

0
508
मुंह के छाले की दवा का नाम कारण और लक्षण, Muh ke chale ki dawa in hindi

मुंह के छाले के घरेलू उपाय (Muh ke chale ka upay ): मुंह में छालो की समस्या जिसे अंग्रेजी में mouth ulcer कहते है , ये रोग ज्यादातर पानी कम पीने , पेट की गर्मी , कब्ज और तेज मसालेदार खाना खाने से होता है . मुँह में छाले गालो के अंदर , जीभ और होठो पर होते है . वैसे तो ये कोई बड़ी बीमारी नहीं पर छाले होने पर काफी तेज दर्द होता है जिससे खाने पीने और बोलने में तकलीफ होती है . एक बार ठीक होने के बाद कुछ लोगो को मुंह के छाले फिर से निकल आते है . ऐसे में बार बार मुंह के छालो से छुटकारा पाने के लिए छाले का कारण जानना जरुरी है . इससे पहले हमने मुंह के छाले का इलाज के लिए देसी घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक उपचार के बारे में जाना है . आज हम मुंह के छालो की दवा पतंजलि और होम्योपैथिक मेडिसिन का नाम और इससे बचने के उपाय जानेंगे , mouth ulcer treatment in hindi.

मुंह के छाले की दवा का नाम कारण और लक्षण, Muh ke chale ki dawa in hindi

 

मुंह के छाले का कारण – Muh Ke Chalo Ka Karan

  • विटामिन बी की कमी होना
  • पेट में गर्मी और कब्ज रहना
  • पाचन तंत्र ख़राब होना
  • हार्मोन्स में बदलाव होना
  • ज्यादा मिर्च मसालेदार भोजन करना
  • खाते वक़्त दांत से गाल कट जाना

 

मुंह में छालों के लक्षण – Muh Ke Chale Ke Lakshan

  • छाले होने से पहले मुंह में जलन और चुभन महसूस होना|
  • मुँह में छाले सफ़ेद और पीले रंग के होते है और छाले की बाहरी परत लाल होती है|
  • तेज दर्द होना , चीस उठना और बुखार आना mouth ulcer symptoms है|
  • मुँह में कटा हुआ महसूस होना|
  • खाना चबाने निगलने और बोलने में परेशानी आना|

 

मुंह के छाले की दवा का नाम

Muh Ke Chale Ki Dawa Ka Naam in Hindi

 

1. मुंह जीभ और होठो के छाले की समस्या ज्यादातर पेट में गड़बड़ी के कारण होती है| अगर आपको बार बार मुंह में चलो की परेशानी होती है तो इसका मतलब है आपका पेट ठीक से साफ़ नहीं हो रहा है|

2. अगर ठीक से पेट साफ़ होने लगे और पेट की गर्मी जैसे रोग दूर हो जाये तो छाले की समस्या खत्म हो जाएगी| घरेलू नुस्खे से भी पेट की गर्मी और कब्ज का इलाज किया जा सकता है जैसे घूंट घूंट कर के पानी पीना .

3. जो काम पानी धीरे धीरे करेगा वही काम मुंह के छालो की होम्योपैथिक दवा जल्दी कर देती है .

4. होम्योपैथिक इलाज से इस रोग को जल्दी ठीक किया जा सकता है| होमियोपैथी में इसके इलाज की दवा का नाम है बोरेक्स| इसे आप 30 या 200 की पटेंसी में ले सकते है| इस मेडिसिन की सिर्फ 3 खुराक से ही पेट ठीक से साफ़ हो जायेगा .

5. मुंह के चलो की दवा पतंजलि से भी ले सकते है| पतंजलि खदिरादि वटी मुंह के छाले , गले की खराश और आवाज बैठना जैसे रोगो के लिए एक आयुर्वेदिक दवा है|

6. पतंजलि की इस दवा की 2 गोली मुंह में रखे और धीरे धीरे चूसे| इस टेबलेट को दिन में 2 से 3 बार प्रयोग करने पर छाले ठीक होने लगेंगे|

7. छालो के ट्रीटमेंट के लिए अंग्रेजी दवा लेना चाहते है तो विटामिन बी के कैप्सूल्स ले सकते है . ये पेट की गर्मी दूर करने में मदद करते है जिससे छालो से छुटकारा मिलने लगता है| इसलिए इसे मुंह के छाले की टेबलेट भी कहते है .

8. छाले में दर्द ज्यादा हो रहा हो तो बर्फ का इस्तेमाल करे| चलो के दर्द से आराम पाने के लिए बर्फ से चलो पर सिकाई करनी चाहिए .

9. बार बार मुंह में छाले से बचने के लिए पानी अधिक पिए, ब्रश मुलायम वाला इस्तेमाल करे , पेट साफ़ रखे और ज्यादा तेज मिर्च मसालेदार खाने से परहेज करे|

10. हल्दी का उपयोग छालो के इलाज में देसी दवा का काम करती है| घाव भरने में हल्दी रामबाण उपाय है . 1 गिलास गुनगुने पानी में आधा चमच्च हल्दी डाल कर इस पानी से कुल्ला करे| दिन में 2 बार ये उपाय करने पर दर्द और छाले से राहत मिलने लगेगी|

 

मुंह के छालों में क्या नहीं खाना चाहिए – Muh Ke Chale Me Kya Na Khaye in Hindi

  • ऐसे खाने से परहेज करना चाहिए जिसे मुंह को नुकसान पहुंचे , जैसे तीखा और मीर्च मसाले वाला खाना .
  • इस रोग के होने का एक बड़ा कारण पेट की गर्मी और पेट साफ़ ना होना है तो इससे बचने के लिए ऐसे आहार से दूर रहे जिससे कब्ज जैसे रोग हो .
  • धूम्रपान और शराब के सेवन से दूर रहे , इनके ज्यादा सेवन से पेट में गर्मी होने लगती है जिससे  माउथ में छाले होने लगते है .
  • ज्यादा सख्त खाना ना खाये . सख्त चीजे चबाने में ज्यादा समय लगता है और इससे मुंह में घाव होने की सम्भावना भी अधिक होती है .
  • कैंसर के घाव भी मुंह के छाले जैसे दीखते है पर ये इलाज के बिना ठीक नहीं होते . मुँह के कैंसर के लक्षण मुंह के छालो के लक्षण जैसे ही होते है इसलिए मुंह के छालो के साथ नीचे बताये गए लक्षण भी दिखे तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए .

 

डॉक्टर से कब मिले – Doctor Ko Kab Dikhaye

  • दवा के बाद भी छाले ठीक ना हो|
  • छाले पहले से ज्यादा बड़े होने लगे और मुंह में फैलने लगे|
  • 3 हफ्ते से ज्यादा समय तक छाले ठीक ना होने पर|
  • छाले होने के साथ बुखार आ रहा हो|
  • उपाय और मेडिसिन लेने के बाद भी छालो के दर्द से राहत ना मिलने पर

 

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी ( health tips in hindi ) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी ( gharelu nuskhe in hindi ) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 4 =