Home Home Remedies - घरेलू नुस्खे प्रेगनेंसी रोकने व अनचाहे गर्भ से बचने के आसान उपाय और टेबलेट...

प्रेगनेंसी रोकने व अनचाहे गर्भ से बचने के आसान उपाय और टेबलेट नाम

47
1086
प्रेगनेंसी रोकने के लिए घरेलू उपाय नुस्खे

प्रेगनेंसी रोकने के लिए घरेलू उपाय नुस्खे और टेबलेट का नाम इन हिंदी: शादी के बाद कुछ लोग अपने परिवार का विस्तार करने में समय लेना चाहते है जिस कारण वे अक्सर अनचाहे गर्भ से बचने के उपाय और तरीके अपनाते रहते है। इसके इलावा कई बार कुछ प्रेमी जोड़े प्यार में बह कर आपसी मेल कर बैठते है और फिर बाद में लड़की के प्रेग्नेंट न होने के उपाय करते है। प्रेग्नेंसी को रोकने के लिए क्या करना चाहिए इस का सबसे आसान तरीका है सुरक्षित मेल बनाना, पर कई बार प्रेगनेंसी से बचने के तरीके अपनाने के बाद भी लड़की को गर्भवती होने की टेंशन रहती है। इस परेशानी से बचने के लिए कुछ लड़कियां प्रेग्नेंसी रोकने की दवा (मेडिसिन) का सहारा लेती है पर बिना किसी गर्भ निरोधक गोली और टेबलेट के कुछ घरेलू नुस्खे से भी प्रेग्नेंट होने से रोकने के उपाय किये जा सकते है। आइये जाने pregnancy rokne aur is se bachne ke tarike gharelu upay medicine name in hindi.

प्रेग्नेंट न होने के लिए क्या करे – Pregnant Na Hone Ke Tips

  • प्रेगनेंसी से बचने के लिए सबसे पहले ओव्युलेशन का ध्यान रखना जरुरी है। महिलाओं की प्रजनन क्षमता ओव्युलेशन के समय अधिक होती है, इसलिए अनचाहे गर्भ से बचना है तो इस दौरान कभी भी मेल ना करे।
  • पीरियड खत्म होने के बाद के 5 से 7 दिन तक गर्भधारण करने का समय सबसे अच्छा होता है, इसलिए प्रेग्नेंट होने से बचना है तो इन दिनों शारीरिक मेल नहीं करना चाहिए और अगर करना है तो मेल करने के सुरक्षित तरीके अपनाए।
  • कई बार कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंट होने के बारे में देरी से पता चलता है और ऐसे में 1 से 2 month का गर्भ हो जाये तो टेबलेट लेना सुरक्षित नहीं होता। ऐसी स्थिति में unwanted pregnancy से बचने के लिए कोई भी दवा या इलाज करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

प्रेगनेंसी रोकने के लिए घरेलू उपाय और नुस्खे

Pregnancy Rokne Ke Gharelu Upay Nuskhe in Hindi

1. प्रेग्नेंट ना होने के उपाय में नीम दवा का काम करती है। ये शुक्राणुओं की गति को कम कर के गर्भ ठहरने के खतरे को कम करती है। नीम के पत्ते, तेल और कैप्सूल गर्भ निरोधक के लिए प्रयोग होते है। अगर आपको गर्भवती होने की संभावना लग रही है तो नीम के पत्ते चबाए।

2. नीम के तेल से उपाय करने के लिए इसे इंजेक्शन के द्वारा फेलोपियन ट्यूब और महिला के गर्भ को जोड़ने वाली जगह पे डालते है। इससे सभी शुक्राणु खत्म हो जाते है पर डॉक्टर की सलाह के बिना ये इंजेक्शन ना लगाये।

3. अनचाही प्रेगनेंसी से बचने के लिए कच्चे पपीते का सेवन करना अचूक उपाय है। मेल होने के बाद कच्चा पपीता खाने से गर्भ ठहरने की संभावना कम हो जाती है। इसके इलावा अगले 3-4 दिन तक पपीते का जूस पिए या फिर पपीता खाएं।

4. अदरक में रक्त स्त्राव शुरू करने के गुण होते है, अनचाहे गर्भ से बचने के लिए इसे प्राकृतिक गर्भ निरोधक दवा के रूप में प्रयोग किया जाता है। अदरक की चाय प्रतिदिन दिन में 2 बार पीने से pregnant होने की संभावना कम होती है।

5. हींग को पानी में मिला कर इसका सेवन करने से गर्भ नहीं रुकता और इसके साथ इस उपाय को करने पर रुका हुआ गर्भ भी निकल जाता है।

6. प्रेगनेंसी को रोकने के लिए क्या उपाय करे इसमें गाजर के बीज का सेवन भी फायदेमंद है। आधे से एक चम्मच गाजर बीज रात को सोने से पहले पानी में भिगो कर रखे और अगली सुबह को इनका पेस्ट बना कर खाएं।

7. सुखी अंजीर अनचाहे गर्भ से बचने का एक आसान तरीका है। प्रेग्नेंट न होने के लिए दिन में 2 बार 2 – 3 सुखी अंजीर खाएं। इस नुस्खे से रक्त प्रवाह अच्छा होता है।

प्रेगनेंसी रोकने की टेबलेट नाम – Pregnancy Rokne Ki Medicine Name in Hindi

  • अधिकतर महिलाएं अनचाहे गर्भ से बचने और गर्भपात करने के लिए सबसे पहले टेबलेट का सहारा लेती है। गर्भ निरोधक गोली से फायदा तो मिलता है पर लम्बे समय तक प्रेग्नेंसी रोकने की दवा लेने से नुकसान भी हो सकते है।
  • प्रेगनेंसी रोकने के लिए टेबलेट में unwanted 72 और i pill नाम की गोली अधिक प्रयोग की जाती है। आप कोई भी गोली का प्रयोग कर सकते है।

दोस्तों प्रेगनेंसी रोकने के लिए उपाय और दवा, Pregnancy se bachne rokne ke gharelu upay nuskhe in hindi का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास प्रेग्नेंट न होने, अनचाहे गर्भ से बचने व रोकने के लिए टेबलेट, घरेलू नुस्खे, गर्भ निरोधक गोली का नाम या अन्य तरीके है तो हमारे साथ सांझा करे।

47 COMMENTS

  1. सर जिस दिन लड़की को पीरियड आया था उसके तीसरे दिन मैं मेल कर लिया, बहुत डर लग रहा है कुछ उपाय बताए.

  2. sir dedh mahina ho gya hai aur periods nahi aa rhe hai aur pahle test me negative aa rha tha aur jab dusra test kiya to positive dekha rha hai ye kya karan hai ki pahle negative aur baad me positive to abhi vo pregnant nhi hona chahti hai to koi upay bataye.

  3. Meri biwi ko period 17-18 tarik tak aa jate hai lekin jab maine abki baar last time 1 June ko mel kiya tha uske baad sirf 1 din period aaye the thode bhut baki 4 din kuch nahi aaya mujhe ek baar meri biwi ko pregnant nahi karna hai kuch upay btaye.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + one =