यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण और 5 आसान उपाय – Urine Infection in Hindi

Home Remedies - घरेलू नुस्खे यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण और 5 आसान उपाय - Urine Infection in...

Urine Infection in Hindi (यूरिन इन्फेक्शन का घरेलू इलाज इन हिंदी): जैसे रुके हुए पानी में अक्सर बैक्टीरिया जमा होने लगते है वैसे ही पेशाब रोकने पर मूत्राशय में भी बैक्टीरिया जमा हो जाते है जिस कारण पेशाब में संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। यूरिन में इन्फेक्शन के लक्षण वीमेन में अधिक दिखते है। इस संक्रमण को यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन (UTI) के नाम से भी जानते है। यूरिन इन्फेक्शन ट्रीटमेंट के लिए कुछ लोग मेडिसिन भी लेते है। दवा के इलावा घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक तरीके से घर पर उपचार कर सकते है। आइये जाने natural home remedies and ayurvedic gharelu nuskhe for urine Infection treatment in hindi.

पेशाब में संक्रमण का सीधा असर किडनी पर पड़ता है और समस्या गंभीर होने पर किडनी फेलियर तक हो सकता है। ऐसी स्थिति में शरीर में उपस्थित हानिकारक पदार्थ शरीर से बाहर निकलने की बजाए शरीर में ही घुलने लगते है। काफी देर तक पेशाब रोक कर रखे तो पेशाब का रंग गहरा आने लगता है जो यूरिन इन्फेक्शन सिम्पटम्स है। अगर प्रेशर बढ़ने के बाद भी पेशाब ना किया जाए तो ये गुर्दे की तरफ वापिस जाने लगता है जिससे गुर्दों को नुकसान होता है।

यूरिन इन्फेक्शन का घरेलू इलाज, Urine infection treatment in hindi

 

यूरिन इन्फेक्शन के लक्षण – Urine Infection Symptoms

अगर आप को यहां बताये गए सिम्पटम्स महसूस हो तो यूरिन टेस्ट करवाए और रोग की पुष्टि करे।

  • यूरिन में ब्लड आना
  • बुखार आना, ठंड लगना
  • गुप्त अंग पे खुजली होना
  • Peshab करते वक़्त दर्द होना
  • पेशाब में जलन महसूस होना
  • बार बार पेशाब की हाजत होना
  • कमज़ोरी और थकान महसूस होना
  • यूरिन का रंग पीला होना और यूरिन में बदबू आना
  • पेशाब में रुकावट आना और रुक रुक के पेशाब आना

 

यूरिन में इन्फेक्शन होने के कारण – Causes

  • ज्यादा देर तक ब्लैडर में पेशाब रोकना।
  • शुगर (Diabetes) के रोगी को भी पेशाब में संक्रमण की आशंका ज्यादा होती है।
  • Women को पीरियड्स और प्रेगनेंसी के समय UTI की संभावना होती है।
  • रीढ़ की हड्डी की चोत्से प्रभावित व्यक्ति को भी यूरिन इन्फेक्शन का ख़तरा होता है।

 

एलोपैथी से यूरिन इन्फेक्शन का इलाज

यूरिन इन्फेक्शन का ट्रीटमेंट के लिए डॉक्टर एंटीबायोटिक मेडिसिन देते है जो ब्लैडर में उपस्थित हानिकारक बैक्टीरिया ख़तम करते है।

  • कई बार medicine इन्फेक्शन के कारण को दूर नहीं कर पाती जिस वजह से एक बार इन्फेक्शन ठीक होने जाने के बाद कुछ दिनों में फिर से हो जाता है।

 

यूरिन इन्फेक्शन का घरेलू इलाज और उपाय

Urine Infection Treatment in Hindi

मेडिसिन की बजाय अगर यूरिन इन्फेक्शन दूर करने के लिए घरेलू नुस्खे किये जाये तो इन्फेक्शन खतम करने के साथ इस समस्या के कारणों को भी खतम कर सकते है और इससे बचने के उपाय भी किये जा सकते है।

 

1. पानी ज्यादा पिए – Drink Water

यूरिन इंफेक्शन का कारण मूत्राशय में बैक्टीरिया जमा होना है। इन्फेक्शन दूर करने के लिए पानी ज्यादा से ज्यादा पिए ताकि पेशाब के रास्ते बैक्टीरिया बाहर निकल जाए।

 

2. सेब का सिरका – Apple Cider Vinegar

सेब के सिरके को अंग्रेजी में एप्पल साइडर विनेगर कहते है। ये यूरिन इन्फेक्शन के symptoms को कम करने और गुप्त अंग की समस्याओं के इलाज में काफ़ी उपयोगी है। 2 चम्मच सेब का सिरका, आधा चम्मच शहद 1 गिलास पानी में मिला कर पिए।

  • दिन में 2 से 3 बार इस होम रेमेडीज को करने पर पेशाब के संक्रमण से राहत मिलती है।

 

3. खट्टे फल खाए – Fruits

  1. खट्टे फलों में सिट्रिक एसिड पाया जाता है जो बैक्टीरिया ख़तम करने में मददगार है। यूरिन इन्फेक्शन दूर करना है तो खट्टे फल खाए और रस भी पिए।
  2. संतरा, आंवला और नींबू भी फायदेमंद है। नींबू पानी यूरिन इन्फेक्शन से बचने और uti treatment में बेहद उपयोगी है।
  3. खट्टे फलों में विटामिन सी अधिक होता है जो एक तरह से नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट है। शरीर से विटामिन सी फ्री रेडिकल्स को नष्ट करके इम्यूनिटी को बढ़ाता है।

 

4. बेकिंग सोडा – Baking Soda

  • शरीर में एसिड का संतुलन बनाने में बेकिंग सोडा असरदार है। Urine infection ka ilaj के लिए आधा चम्मच बेकिंग सोडा एक गिलास पानी में मिलाकर दिन में दो बार पिए।

 

5. क्रैनबेरी जूस – Cranberry Juice

 

6. अनानास – Pineapple

  • पेशाब संक्रमण का उपचार में अनानास भी कारगर है। अनानास गुप्त अंग से बैक्टीरिया ख़तम करने में मदद करता है। इसे आप ऐसे भी खा सकते है और इसका रस भी पी सकते है।

 

7. लस्सी – Butter Milk

  • लस्सी को छाछ भी कहते है, ये बैक्टीरिया को ब्लैडर से बाहर निकालता है और साथ ही पेशाब की जलन से भी छुटकारा मिलता है।
  • यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन में दही का सेवन भी अच्छा gharelu upay है। दही से शरीर में अच्छे बैक्टीरिया जाते है।
  • इन्फेक्शन के वक़्त प्याज का सेवन करना भी उत्तम है। प्याज शरीर से टॉक्सिन्स बाहर निकालने का काम करता है।

 

यूरिन इन्फेक्शन से बचने के उपाय इन हिंदी (Urine Infection in Hindi)

  1. पेशाब लगने पर उसे रोकना नहीं चाहिए। पेशाब रोकने से इंफेक्शन का ख़तरा बढ़ जाता है।
  2. यूरिन इन्फेक्शन से बचने के लिए ज्यादा पानी पिए।
  3. संभोग के बाद पेशाब अवश्य करे और गुप्त अंग को ठीक से साफ़ करे। इससे गुप्त अंग पर बैक्टीरिया जमा नहीं  होंगे।
  4. ऐसी जगह पे पेशाब नहीं करना चाहिए जहाँ गंदगी ज्यादा हो।
  5. Urine tract infection tips in hindi, यूरिन में इन्फेक्शन होने पर कॉफ़ी, चाय और चॉक्लेट नहीं खाना चाहिए
  6. पब्लिक शौचालय में पेशाब करने से पहले एक बार फ्लश चलाए फिर 2 मिनट रुक कर पेशाब करे।
  7. बाथरूम हमेशा साफ़ सुथरा रखे।
  8. हर रोज नहाए और अपने गुप्त अंग को भी साफ करे।

 

स्पाइनल कॉर्ड इंजरी में यूरिन ट्रैक इन्फेक्शन – Spinal Cord Injury UTI

स्पाइनल कॉर्ड इंजरी मतलब रीढ़ की हड्डी में चोट, जिस कारण चोट के नीचे बॉडी को paralysis हो जाता है। ऐसी स्थिति में शरीर के प्रभावित अंगों पर कंट्रोल नहीं रहता। जैसे की छूने पर महसूस न होना, हाथ पैर ना हिलना, लैटरिंग और बाथरूम का पता ना लगना।

  • SCI होने के बाद पेशाब करने के अन्य तरीके प्रयोग करने पड़ते है जैसे की bladder में पाइप डालना, कंडोम कैथिटर लगाना।
  • इन तरीक़ो से यूरिन इंफेक्शन का ख़तरा अधिक होता है। इसलिए इनके इस्तेमाल से पहले इन्हें साफ़ करना चाहिए ताकि इन पर जमा बैक्टीरिया निकल जाए।

 

यूरिन इन्फेक्शन टिप्स इन हिंदी

  • दादी माँ के नुस्खे फॉर यूरिन इन्फेक्शन इन हिंदी वैसे तो आयुर्वेद से ही प्रेरित होते है पर कुछ अन्य आयुर्वेदिक दवा भी है जो यूरिन इन्फेक्शन के ट्रीटमेंट में कारगर है। ये दवाएं आप baba ramdev patanjali के स्टोर से ले सकते है। इनके सेवन से पूर्व इनके बारे में जानकारी ज़रूर ले।
  • होम्योपैथिक मेडिसिन से भी यूरिन इन्फेक्शन का उपचार संभव है। इसके लिए होमियोपैथी डॉक्टर से मिले वे आप के रोग को पूरी तरह जानने के बाद दवा देंगे।

 

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी ( health tips in hindi ) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी ( gharelu nuskhe in hindi ) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

Bina Color ke Safed Baal Kale Karne ke Upay: White Hair Treatment

Safed Baal Kale Kaise Kare: White Hair Home Remedies Aksar hum baalo ko sundar dikhane ke liye hair gel aur kai tarike ke hair products ka...

Malaria se Bachne ke 10 Upay: Malaria Prevention Tips in Hindi

Malaria se Bachne ke Upay: Agar aap ko malaria ke lakshan dikhayi de rahe hai to turant blood test karwaye aur treatment shuru karne...

Cancer ka ilaj ke 15 Gharelu aur Ayurvedic Upay Hindi Mein

Cancer ka ilaj (Ayurvedic treatment) in hindi: Cancer ek asi bimari hai jo bacho se lekar bado tak kisi ko bhi ho sakti hai, cancer...

Pregnancy Mein Baba Ramdev ke 3 Aasan Yoga Tips in Hindi

Pregnancy Yoga Tips in Hindi: Pregnancy ke samay agar maa swasth rahegi to bacha bhi swath rahega iske liye sahi khan paan ke sath...

26 COMMENTS

  1. Sir mere urine mai chipchapat si raal aa rahi hai water ka color hota same waisi raal kaafi time se medicine se bhi theek nhi hui proper jiski vajah se back bone mai pain hota h isko hamesha ke liye kaise khatam kiya jaye please help me or main part main growth bhi nhi ho rha age 19.

    • दोस्त हम आपकी समस्या समझ नहीं पा रहे है आप डॉक्टर या किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक से मिल कर सलाह ले.

  2. पेशाब बार बार आता है हर एक दो घंटे पर बाथरूम जाना पड़ता है.

  3. पेट फुला हुआ रहता है तो परेशानी बढ़ जाती है और 5 से 7 मिनट के अंतराल में भी जाना पड़ता है रात भर नींद नही आती, खाना खाने के बाद शाम को अधिक परेशानी होती है गैस पास नहीं होती और बार बार पेशाब आता है.

  4. Mujhe fungal infection hai medicine le li. Hai par aaram nahi aaya. stomach main garam feel ho raha hai urine jane par eching hoti hai.

  5. mere ko urine me bahut jalan hoti hai baar baar urine karne ki hazat hoti hai urine me rukawat hoti hai urine ruk ruk ke hota hai kamjori aur thakawat rehti hai kamar aur taango me dard rehta hai ye problem mujhe 10 saal se hai bahut medicine kha chuka hu lekin kuch aaram nahi hai gas bhi bahut banti hai pet jaldi se saaf nahi hota hai pls sir kuch upay bataiye.

  6. Mujhe last 2 and half years se urine infection ki problem hai ache doctor se bhi consult kar chuki hu but I’m not satisfied ab to problem or jada badh rhi hai.

    • यूरिन इन्फेक्शन का इलाज के लिए आप घरेलू नुस्खे और उपाय करे आराम मिलेगा, इसकी जानकारी ऊपर लेख में पढ़े.

  7. Sir mere gupt ang me dane ho rahe hai mujhe lagta hai jab meri wife pregnant thi to mene mel kara tha jab se dane ho rahe hai mene medecine bhi li fark nahi pada.

  8. Main aur mere dost jab 1 sath peshab karte hai to wo sabhi jaldi finish kar lete hai par mujhe der lagta hai aisa kyo jabki hum sab ek hi sath shuru kiye the.

  9. Meri wife ke infection hai. Use sujan aati hai kaleje me jalan hoti hai kaleje me dard hota hai ji bahut ghabrata hai agar in sabka koi ilaj hai to btao.

  10. Mere urine bhut gahra aur ganda aa rha hai aur karne ke bad mujhe jalan aur pain ho rha hai to kya mujhe urine test karwa lena chahiye.

  11. Mujhe 1 year ho gya hai urine Infection hai jab bhi test krati hu to infectin aata hai. Bahut medicine le chuki hu but farak nhi pad raha, bahut kharish hoti hai. Allopathic aur homepathic dono le chuki hu.

  12. Sir meri peshaab ruk jati hai jo ki peshaab nali mein bukhar tha aur peshaab ruk gayi to jab nikal rahe they to ander mein kharonche la diya tha jo kuch samay bad pesab rukna chalu ho gaya. Aur UTI problem ho gayi hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen − 11 =