Home Home Remedies - घरेलू नुस्खे पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और इलाज की रामबाण दवा

पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और इलाज की रामबाण दवा

17
922
पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और दवा, Pet me gas ke karan in hindi

पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और इलाज की अचूक दवा इन हिंदी: पेट में गैस बनना भले ही कोई गंभीर बीमारी ना हो पर ये शरीर को होने वाले अन्य रोग के लक्षण हो सकते है। पेट की गैस की समस्या ज्यादातर हमारे खाने पीने के गलत तरीके और बुरी आदतों के कारण होती है। सुबह पेट ठीक से साफ ना होना और कब्ज की वजह से भी गैस के लक्षण दिखते है जैसे की पेट में भारीपन महसूस होना, बार बार पाद आना, गैस निकलना और सीने में दर्द। कुछ लोग पेट को ठीक रखने और गैस का अचूक इलाज करने के लिए दवा (मेडिसिन) का सेवन करते है पर घरेलू उपाय और देसी आयुर्वेदिक नुस्खे भी गैस की समस्या से छुटकारा पाने में रामबाण का काम करते है। आज इस लेख में हम जानेंगे पेट में गैस क्यों बनती है और इसका उपचार कैसे करे, pet me gas ke karan lakshan dawa aur ilaj ke desi gharelu nuskhe in hindi.

पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और दवा, Pet me gas ke karan in hindi

गैस से होने वाली परेशानियां

  • गैस के कारण चक्कर आना और घबराहट होना
  • सीने में दर्द होना, पीठ (कमर) में दर्द होना
  • बार बार गैस निकलना और पाद आना
  • पेट का फूलना, मरोड़ उठना और पेट में भारीपन
  • गैस बनने से पेट में खिचाव आना और भूख ना लगना

पेट में गैस बनने के कारण और रामबाण इलाज

Pet Me Gas Ke Karan Aur ilaj in Hindi

1. गैस की समस्या का सबसे प्रमुख कारण है कब्ज। पेट ठीक से साफ ना होने से हानिकारक पदार्थ शरीर से बाहर नहीं निकल पाते जिस वजह से पेट में गैस बनने लगती है और अगर इस समस्या से छुटकारा पाना है तो पहले कब्ज का इलाज करे।

2. उम्र बढ़ने के साथ साथ पाचन तंत्र भी कमजोर होने लगता है और ऐसे में दूध व दूध से बनी हुई चीजें ठीक से पच नहीं पाती जिससे गैस की बीमारी हो जाती है। अधिक उम्र के लोग अकसर बार बार पाद आने और गैस निकलने से परेशान रहते है। ऐसे में दूध से बनी चीजों का सेवन कम करना चाहिए।

3. पेट में गैस क्यों बनती है इसका एक जवाब दर्द निवारक दवाओं का अधिक सेवन करना भी है। इससे पाचन क्रिया कमजोर होने लगती है। इसलिए कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले।

4. प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिलाओं में भी गैस की समस्या अधिक होती है। प्रेग्नेंट महिला के शरीर में कई हार्मोनल बदलाव होते है जिसका असर पाचन पर भी पड़ता है और पेट में गैस बनने लगती है। Pregnancy में इससे बचने के लिए संतुलित आहार ले।

5. कुछ लोग जल्दी जल्दी में खाने को ठीक से चबाने की बजाय उसे निगल जाते है जिसे पचने में अधिक समय लगता है और गैस की समस्या होने लगती है। इसके निवारण के लिए जरुरी है की खाने को आराम से और चबा चबा कर खाएं।

6. आजकल हम फास्ट फ़ूड काफी पसंद करते है। मैदे से बनी हुई चीजों को पचने में बहुत ज्यादा समय लगता है जिससे stomach gas problem होने लगती है। इसके उपाय के लिए ज्यादा तला और मैदे से बनी चीजें खाने से परहेज करे।

7. ज्यादा तनाव लेना, बासी खाना, चाय कॉफी का अधिक सेवन करना, धूम्रपान, शराब पीना, समय पर खाना ना खाना, पेट भरने के बाद भी खाना, बेमेल चीजों का सेवन एक साथ करना और एक्सरसाइज ना करना भी कुछ ऐसे कारण है जिससे पेट में गैस की समस्या होती है।

8. लम्बे समय तक खाली पेट रहने से एसिडिटी, जलन और गैस की शिकायत होने लगती है। इसके समाधान के लिए सही समय पर आहार ले।

9. भारी दालें, राजमा, उड़द की दाल, फूल गोभी, दूध, खाने के साथ कोल्ड ड्रिंक पीने से भी गैस बनती है। इसके इलावा लिवर में सूजन, फैटी लिवर, शुगर, पथरी और मोटापा भी पेट में गैस बनने का एक कारण है।

10. गैस की समस्या के लक्षण – पेट के एक साइड दर्द होना, पेट फूलना, पीठ में दर्द करना, पेट में खिचाव महसूस करना, पेट में मरोड़ उठना, पेट ठीक से साफ ना होना, सीने (छाती) में दर्द, भूख कम लगना, पाद आना और गैस निकलना।

पेट की गैस की रामबाण दवा और उपाय

  • पेट में गैस बनने की समस्या का समाधान में अदरक एक अचूक देसी दवा का काम करती है। अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा ले कर कुछ देर तक दांतों से चबाये और इसके रस को अंदर ले।
  • जीरा पेट को ठीक रखने और पाचन से जुड़े रोगों को दूर करने में काफी फायदेमंद है। इसके लिए आप जीरा चबा चबा कर खा सकते है या जीरे का पानी भी पी सकते है।
  • गैस की दवा घरेलू नुस्खे से बनाने के लिए अजवाइन, जीरा, छोटी हरड़ और काला नमक बराबर मात्रा में पीस ले और इस मिश्रण से 2 से 5 ग्राम तक गुनगुने पानी से ले।
  • पतंजलि गैस की दवा लेना चाहते है तो दिव्य गैसहर चूर्ण ले सकते है। इसे आप अपने आस पास बाबा रामदेव के किसी भी patanjali स्टोर से ले सकते है। ये आयुर्वेदिक दवा पेट दर्द, गैस, एसिडिटी और भारीपन से छुटकारा पाने में उपयोगी है।
  • थोड़ा काला नमक 1 गिलास हल्के गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से भी गैस से राहत मिलती है। पेट से जुड़ी अन्य बिमारियों में भी ये होम रेमेडी रामबाण काम करती है।
  • पेट दर्द होने के कारण और उपाय
  • दादी माँ के घरेलु नुस्खे
  • बाबा रामदेव पतंजलि की दवा

दोस्तों पेट में गैस बनने के कारण लक्षण और उपाय, Pet me gas ke karan lakshan aur ilaj in hindi का ये लेख कैसा हमें बताये और अगर आप के पास पाद आना, पेट की गैस का अचूक और रामबाण इलाज के लिए घरेलू नुस्खे व दवा से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ साँझा करे।

17 COMMENTS

    • रात के खाने के बाद गैस बनती है तो कुछ बातों का ध्यान रखे, रात को खाना हल्का खाएं, खाने के तुरंत बाद सोने ना जाये, खाने के बाद कुछ देर सैर भी करे.

  1. Dekho bhaiyo aap kitni bhi dawa lo isse chutkara nahi pa sakte koi nuskha bhi kaam nahi karega agar aap chahte hai ki aap sabhi gas ki aur pet ki bimari se chutkara paye to bas itna karo raat ko khana khane ke bad thoda ghumo sone se pahle pani ko thoda garam karke pi lo 1 glass pura subah sab thik ho jayega.
    Savere thodi running bhi karo isse bahut fayda hota hai aur pet ki exercise bhi karo bas yhi sahi tarika hai aur ek bar me pet bhar jada bhojan kabhi mat karo.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − fifteen =