पेट कम करने के लिए योग बाबा रामदेव के 5 आसान योग आसन

Weight - वजन Weight loss - वजन घटाए पेट कम करने के लिए योग बाबा रामदेव के 5 आसान योग...

पेट कम करने के लिए योग रामदेव इन हिंदी: जल्दी वेट लॉस के लिए घरेलू उपाय और अच्छी डाइट के साथ साथ सही तरीके से व्यायाम करना भी ज़रूरी है। तोंद कम करने के लिए रोजाना कसरत करने के इलावा आप कुछ ऐसे योगासन भी कर सकते है जो वजन घटाने और पेट अंदर करने में कारगर है। योगा करने के फायदे तो आप जानते ही होंगे, नियमित रूप से योगा का अभ्यास करे तो भविष्य में होने वाले कई तरह के रोगों से बच सकते है और अगर आप किसी रोग से ग्रस्त हो तो भी उसके इलाज में योगा करने से मदद मिलती है। आज इस लेख में हम जानेंगे बाबा रामदेव मोटापा कम करने के लिए योग आसान से पेट की चर्बी कैसे कम करे, baba ramdev weight loss yoga tips in hindi.

अगर आप पहली बार योगासन कर रहे है तो यहाँ बताये गए योगा से पेट कम करने के उपाय किसी योग गुरु की देख रेख में करे ताकि आप योग करने का सही तरीका जान सको और किसी भी प्रकार की चोट से बचे रहे।

पेट कम करने के लिए योग, Ramdev Baba Yoga For Weight Loss in Hindi

 

पेट कम करने के लिए योग : बाबा रामदेव वेट लॉस योग

Ramdev Baba Yoga For Weight Loss in Hindi

 

1. सेतु बंधा योगासन

जैसे की ऊपर चित्र में दिख रहा है, इस योगासन को करने के लिए पहले पीठ के बल लेटे फिर अपने दोनों घुटनों को मोड़ें और पैर की तलियां ज़मीन पर टिकाए। अब अपनी दोनों बाहों को ज़मीन से लगा कर रखे, ध्यान रहे आपकी हथेलियां ज़मीन पर ही टिकी हो। अब सांस छोड़ते हुए अपनी कमर को ज़मीन से ऊपर उठाये और हथेलियां और पैर उसी अवस्था में रहे। अब इस अवस्था में तीस सेकंड तक बने रहे फिर धीरे धीरे नॉर्मल अवस्था में आए।

 

सेतु बंधा योग के फायदे

  • कई बार गलत तरीके से उठने बैठने से कमर एक और झुक जाती है। सेतु बंधा आसन योग रीढ़ की हड्डी को सीधा बनाए रखने में कारगर है जिससे कमर को ताक़त मिलती है।
  • अगर आप कमर और पेट कम करने के लिए योग आसन करना चाहते है तो हर रोज सेतु बंधा योग आसन करने से काफ़ी मदद मिलेगी।
  • इस आसान से गर्दन का तनाव भी दूर होता है।
  • सेतु बंधा योगा से जांघों और पेट की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है।

 

सावधानियां

हाइ ब्लड प्रेशर से प्रभावित लोगों को सेतु बँधा आसन नहीं करना चाहिए।

 

2. कपालभाती योगा

पेट अंदर करने के लिए योग में कपालभाती प्राणायाम बहुत फायदेमंद है। बाबा रामदेव कहते है की अगर आप वजन और पेट कम करने के उपाय कर रहे है तो साथ में कपालभाती करना शुरू करे आपको जल्दी परिणाम मिलेंगे।

 

कपालभाती प्राणायाम कैसे करे

इस प्राणायाम को करने के लिए खुले और शांत वातावरण में बैठे और नाक से सांसो को बाहर की और छोड़े। सांस बाहर फेंकते वक़्त पेट अंदर बाहर होता है। एक बात का ध्यान रहे की सांस अंदर नहीं लेना बाहर छोड़ना है। प्रतिदिन आधा घंटा सुबह और शाम खाली पेट इसे करने से जल्दी मोटापा कम करने में मदद मिलती है।

 

कपालभाती योग के फायदे

1. पेट की चर्बी कम करने और वजन घटाने में कपालभाती प्राणायाम रामबाण का काम करता है। इसके इलावा हर रोज ये आसान करने से कब्ज, एसिडिटी और गैस की समस्या भी दूर होती है।

2. याददाश्त बढ़ती है और मन के नकारात्मक विचार दूर होते है।

3. हाई कोलेस्टरॉल कम करने में मदद मिलती है।

4. गले और साँस की नली साफ़ होती है और कफ ख़तम होती है।

5. आँखों के नीचे काले घेरे दूर करने, चेहरे की झुर्रियां हटाने और चेहरे की खोयी हुई चमक लौटने में ये योग क्रिया काफी मदद करती है।

 

सावधानियां

  • सुबह के वक़्त खाली पेट ही ये प्राणायाम करे और अगर हो सके तो सुबह पेट साफ़ होने के बाद करे।
  • भोजन करने के बाद कपालभाती ना करे, अगर कुछ खाया हुआ है तो खाने के पांच घंटे बाद करे।
  • योग करने के बाद आधा घंटे कुछ खाए पिए नहीं, थोड़ा पानी पी सकते है।
  • प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को ये योग क्रिया नहीं करनी चाहिए।

 

3. बालासन योगा

बालासन योग करने के लिए सबसे पहले आप घुटनों के बल बैठ जाए और ख्याल रहे आप का पूरा वजन एड़ियों पर ही आए। अब आप सांस लेते हुए आगे की और झुक जाये, अब इस अवस्था में आपकी छाती जांघों को छुनी चाहिए और सिर आगे फर्श पर लगना चाहिए। कुछ देर इसी मुद्रा में रहे फिर वापिस आए। इस आसन को पांच से सात बार दोहराए।

 

बालासन योगा के लाभ

  • अगर आपको अपनी तोंद अंदर करनी है तो बालासन को हर रोज करे.
  • पेट अंदर करने के लिए बालासन योग रोजाना दस मिनट करे। इस व्यायाम से पेट की मांसपेशियां भी मजबूती होती है।

 

4. मोटापा कम करने के लिए योगा अनुलोम विलोम प्राणायाम

कपालभाती की तरह अनुलोम विलोम पेट कम करने के लिए प्राणायाम है। इसे करने के लिए पलाथी मार के बैठ जाये और अपने दोनों हाथों को घुटनों पर रखे। अब आप बाए हाथ के अंगूठे से एक तरफ की नाक को बंद करे और दूसरी तरफ से सांस अंदर की और खिंचे, इसके बाद उसी हाथ के अंगूठे से अपनी दूसरी तरफ की नाक बंद करे और पहली नाक से सांस बाहर छोड़े। अनुलोम विलोम की इस क्रिया को एक बार में दस से बारह बार दोहराए।

 

अनुलोम विलोम के लाभ

  • इस प्राणायाम को नाड़ी शोधन प्राणायाम से भी जानते है। ये आसान शरीर में रक्त का प्रवाह ठीक करता है।
  • योगा से पेट कम करने के उपाय में अनुलोम विलोम प्राणायाम काफी उपयोगी है।

 

5. नौकासन योग

नौकासन करने के लिए आप सबसे पहले पीठ के बल निचे लेट जाए फिर अपनी एड़ी और पंजे मिलाये और दोनों हाथ भी कमर से सटा कर रखे।

अब अपने दोनों पैर, हाथ और गर्दन को धीरे-धीरे एक साथ समानांतर क्रम में ऊपर उठाए। इस अवस्था में शरीर का वजन नितंभ पर आना चाहिए। तीस सेकंड इसी पोज़िशन में रुकने के बाद फिर से पहले वाली पोज़िशन में आये और लेट जाए। इस आसान को चार से पांच बार दोहराये।

 

नौकासन योगा के लाभ

1. हर्निया के रोग का इलाज करने में ये फायदा करता है।

2. ये आसन छोटी आंत, बड़ी आंत और पाचन क्रिया में फायदा करती है।

3.  पेट कम करने का योगा में नौकासन योग करना काफी लाभदायक है।

 

सावधानियां

  • पेट से संबंधित कोई गंभीर रोग है तो ये योगासन ना करे।
  • गर्भवती महिलाओ को भी ये योगा आसन नहीं करना चाहिए।
  • जिन लोगों को स्लिप डिस्क की शिकायत है उन्हें भी ये आसान नहीं करना चाहिए।

 

मोटापा कम करने के लिए योगा आसनों को ऊपर चित्र में भी दिखाया गया है। यहाँ बताये गए बाबा रामदेव वेट लॉस योग टिप्स आपकी जानकारी के लिए है। शुरुआत में इन आसनों को किसी योग एक्सपर्ट की देख रेख में करे और इन्हें करने का तरीका विस्तार में जाने।

 

आगर आप पेट की चर्बी कम करने और वजन घटाने के लिए गंभीरता से आगे बढ़ रहे है तो बाबा रामदेव का मोटापा कम करने का योग आसनों को रोजाना 1/2 से 1 घंटा जरूर करे। अगर आप कोई वेट लॉस डाइट प्लान, कोई घरेलू उपाय या  देसी नुस्खे कर रहे है तो जल्दी परिणाम के लिए साथ में ऊपर बताये आसान भी करे।

 

दोस्तों पेट कम करने के लिए योग बाबा रामदेव, Ramdev Baba Yoga For Weight Loss in Hindi का ये लेख आपको कैसा लगा कमेंट कर के बताये और अगर आपके पास मोटापा के उपाय, पेट की चर्बी कम करने वाले आसन से जुड़े अनुभव या कोई सुझाव है तो हमारे साथ शेयर करे।

हम आशा करते है की sehatdoctor के द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी और जिस भी परेशानी के नुस्खे आपने पढ़ें है उस परेशानी में भी आपको आराम प्राप्त हुआ होगा| किसी भी अन्य बीमारी या परेशानी के लिए हेल्थ टिप्स इन हिंदी (health tips in hindi) और घरेलु नुस्खे इन हिंदी (gharelu nuskhe in hindi) जरूर पढ़ें और लाभ प्राप्त करें| आपका अनुभव कैसा रहा इसकी जानकारी कमेंट करके जरूर बताए |

Recent Articles

12 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + 20 =

Recent Articles